vidhan

vidhan

जयपुर: राजस्‍थान की विधानसभा में बीजेपी के विधायक इन दिनों भुत-प्रेत से डरे हुए है. ऐसे में अब विधायक विधानसभा के भीतर पूजा-पाठ, हवन कराने की मांग कर रहे है. जिसकों लेकर वे अजीबोगरीब दलीले भी पेश कर रहे है.

विधायक कालूलाल गुर्जर ने दलील दी कि विधानसभा का भवन श्‍मशान भूमि पर बना है. यहां मृत बच्चे दफनाए जाते थे. हो सकता है कि कोई आत्मा हो, जिसे शांति न मिली हो. वह नुकसान पहुंचा रही हो. इसीलिए सदन में कभी एक साथ 200 विधायक नहीं रहे. गुर्जर ने सीएम के सामने यह बात रखते हुए विधानसभा में हवन कराने की मांग की है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

दरअसल बीते दिनों बीजेपी विधायक कल्याण सिंह चौहान की स्‍वाइन फ्लू से मौत हो गई. इसके अलावा कई विधायक स्‍वाइन फ्लू से ग्रस्त बताए जा रहे है. ऐसे में बीजेपी विधायकों को अपनी मौत का डर सताने लगा है.

वहीँ बीजेपी विधायक हबीबुर्रहमान अशरफी ने कहा, “भारतीय संस्कृति में ऐसी मान्यता है कि श्मशान भूमि पर भवन नहीं होना चाहिए. ऐसे में विधानसभा के मामले में क्यों नहीं माना जाता सकता. क्या कारण है कि कभी एक साथ 200 विधायक नहीं बैठे. मैंने भी सीएम से इस बात को कहा है.”

हालांकि कांग्रेस के धीरज गुर्जर ने अनुदान मांगों की बहस के दौरान पॉइंट ऑफ इंफर्मेशन के जरिये उठाते हुए कहा कि भाजपा विधायक और सचेतक कालूलाल गुर्जर अंधविश्वास फैला रहे हैं. उनके बयानों से प्रदेशभर में हड़कंप मचा है. इस पर सभापति घनश्याम तिवाड़ी ने कहा कि मानव शरीर पंचमहाभूतों से बना है, इसलिए भूतों की चर्चा न करें.

वहीँ राजेंद्र राठौड़ ने कहा, मैं भूत-प्रेत की बातों को सिरे से खारिज करता हूं, लेकिन उपाध्यक्ष महोदय अगर आप चाहें तो जांच कमेटी बना सकते हैं. कमेटी जांच करे कि यहां कितने भूत-प्रेत और आत्माएं हैं, मेरे अलावा किसी को भी कमेटी का सदस्य बना सकते हैं.

Loading...