लखनऊ: जनवरी 2014 में रामपुर के पसियापुरा स्थित डेयरी फार्म से समाजवादी पार्टी नेता आजम खान की 7 भैंसें चोरी हुई थीं. जिसके बाद यूपी पुलिस ने बड़ी ही फुर्ती के साथ भैंसे तलाश की थी. हालांकि इस मामले को बीजेपी ने बड़ा उछालते हुए कहा था कि अब यूपी में पुलिस का काम भैसे तलाशना रह गया.

हालांकि वक्त का पहिया फिर से घुमा और इस बार फिर से भैंसे चोरी हुई और भैसों को तलाशने के लिए यूपी पुलिस फिर से मुस्तेदी के साथ जुट गई. हालांकि इस बार भैंसे सीतापुर के हरगांव से बीजेपी विधायक सुरेश राही की है. चोरों ने विधायक की दो भैंस चोरी कर ली. भैंस चोरी होने के बाद विधायक ने कोतवाली में तहरीर दी है.

चोरी की गईं दोनों भैंस की कीमत करीब एक लाख रुपये बताई जा रही है. दोनों भैंसे बीजेपी विधायक के जिला कारागार के पीछे पंचमपुरवा गांव के निकट फार्म हाउस से चोरी हुई.

विधायक का कहना है कि उनके फार्म से दो भैंस चोरी हो गईं. फिलहाल पुलिस चोरों की तलाश में दबिश दे रही हैं. क्योकि मामला सत्ता पक्ष से जुड़े विधायक का हैं.

अब ऐसे में सवाल उठता है कि पिछली सरकार पर सवाल उठाने वाली बीजेपी द्वारा अपने विधायक की भैंसों को तलाशने के लिए पुलिस को लगाना कहाँ तक सही ?

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?