damar

भोपाल.  रतलाम ग्रामीण के विधायक मथुरालाल डामर उस वक्त भड़क गए जब उनके घर भाजपा के नए प्रत्याशी दिलीप मकवाना आशीर्वाद लेने पहुंचे। मथुरा लाल डामर ने उन्हें मौके पर खरी-खोटी सुनानी शुरु कर दी और कहा कि पार्टी ने दिलीप मकवाना को 1.5 करोड़ रुपए में टिकट बेचा है।

इस दौरान उन्होने कहा कि मैंने कुंडाल डैम के लिए परिवार की 90 बीघा जमीन डुबो दी। उसके बाद भी पार्टी ने टिकट नहीं दिया। पार्टी अगर मेरे स्थान पर किसी कार्यकर्ता को टिकट देती तो भी मुझे बुरा नहीं लगता, लेकिन एक सरकारी कर्मचारी को टिकट दे दिया।

वीडियो में दिखाई दे रहा है कि मथुरा लाल डामर ने दिलीप मकवाना और उनके समर्थकों को घर के अंदर भी नहीं आने दिया और गेट से ही विदा कर दिया। वीडियो में डामर को ये कहते हुए भी सुना जा सकता है कि मकवाना पार्टी के कार्यकर्ता न होकर कर्मचारी हैं।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

बता दें कि पार्टी द्वारा जारी की गई 177 उम्मीदवारों की लिस्ट में 3 मंत्रियों के टिकट काट दिए गए हैं। जिनमें शहरी विकास मंत्री माया सिंह का नाम भी शामिल है। माया सिंह के अलावा भाजपा ने वन मंत्री गौरी शंकर शेजवार और जल संसाधन मंत्री हर्ष सिंह का टिकट भी काट दिया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अपनी पारंपरिक विधानसभा सीट बुधनी से चुनाव मैदान में उतरेंगे।

आगर मालवा- सुसनेर विधानसभा क्षेत्र से भाजपा के पूर्व विधायक और गौ संवर्धन बोर्ड के उपाध्यक्ष संतोष जोशी ने टिकट वितरण में उपेक्षा के बाद बगावत का बिगुल फूंक दिया और निर्दलीय चुनाव लड़ने का एलान कर दिया। भाजपा ने वर्तमान विधायक मुरली पाटीदार पर एक बार फिर भरोसा जताया और टिकट दिया।

Loading...