प्रदेश में बिगड़ती कानून व्यवस्था का हवाला देकर सत्ता में आई योगी सरकार के शासन में अपराध का ग्राफ तेजी से सातवे आसमान पर पहले ही पहुँच गया है. लेकिन अब बिगड़ती कानून व्यवस्था के चलते खुद योगी के विधायकों को भी थाने के सामने धरने देने पढ़ रहे है.

मामला बलिया जिले के बैरिया क्षेत्र का है. जहाँ भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह ने पुलिस की कथित अवैध उगाही के विरोध में दोकटी थाना में समर्थकों के साथ धरना दिया. भाजपा के बैरिया क्षेत्र से पहली बार विधायक बने सुरेंद्र सिंह का आरोप है कि दोकटी थाना क्षेत्र के पकड़ीतर दलन छपरा निवासी हरेन्द्र यादव कल रामपुर कोड़रहा से बालू खरीद कर ला रहा था। रास्ते में दोकटी थाने में तैनात उप निरीक्षक वीरेन्द्र यादव ने ट्रैक्टर रोकते हुए उससे दो हजार रपये की मांग की. नहीं देने पर यादव ने हरेन्द्र को पीटते हुए उसकी जेब से 500 रपये और मोबाइल फोन छीन लिया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

विधायक सिंह ने इस कथित घटना के विरोध में कल शाम बड़ी संख्या में अपने समर्थकों के साथ दोकटी थाने के मुख्य द्वार पर धरना दिया। सिंह का दावा है कि देर रात उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने उनसे फोन पर बातचीत कर कार्वाई का भरोसा दिलाया, जिसके बाद धरना समाप्त किया गया.

सिंह का आरोप है कि एक जाति विशेष के अधिकारी तथा कर्मचारी योगी सरकार की छवि को खराब करने पर आमादा है. उन्होंने चेतावनी दी कि यदि तत्काल इस मामले में कार्वाई नही हुई तो वह अनशन करेंगे.