बीजेपी नेता की गुंडागर्दी – भाजपा कार्यालय में तैनात पुलिसकर्मी को पीटा

रांची में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) मुख्यालय के बाहर तैनात 41 वर्षीय पुलिस कांस्टेबल को भाजपा युवा मोर्चा (भाजयुमो) के प्रदेश अध्यक्ष अमित सिंह, उपाध्यक्ष अभिषेक सिंह, महामंत्री राज सिन्हा सहित अन्य ने लात-घूसे जड़े और पटक-पटककर बेरहमी से पीटा। किसी तरह अन्य पुलिस के जवानों ने बीच-बचाव कर बचाया गया। इसके बाद जवानों ने ही उठाकर सदर अस्पताल पहुंचाया। वहां से प्राथमिक इलाज के बाद उसे रिम्स रेफर कर दिया गया।

घटना शुक्रवार (29 मार्च, 2019) शाम की है। घटना के वक्त कांस्टेबल शिवपूजन यादव पार्टी मुख्यालय के गेट नंबर दो पर तैनात थे। शिवपूजन यादव ने आरोपियों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। शिकायत में उन्होंने बताया कि भाजयुमो अध्यक्ष अमित सिंह और उनके दस समर्थक पिछला गेट खोलने का दबाव बना रहे थे, जबकि यह वर्जित था।

पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू कर दी है। प्रदेश कार्यालय की सीसीटीवी फुटेज खंगाला जा रहा है। बताया जा रहा है कि पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है। उधर, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अमित सिंह ने इस मामले में किसी टिप्पणी से इन्कार कर दिया है।

bjp

 

सिपाही शिवपूजन के साथ मारपीट की घटना की जानकारी मिलने पर पुलिस मेंस एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष नरेंद्र कुमार आैर एसोसिएशन के अन्य सदस्य  अरगोड़ा थाना पहुंचे और मामले की जानकारी ली।
मामले में नरेंद्र कुमार ने कहा, जिन्होंने मारपीट की है, वे नेता नहीं, गुंडे हैं। इसलिए पुलिस आरोपियों को गिरफ्तार करे। कार्रवाई नहीं होने पर लोकसभा चुनाव के बहिष्कार की भी धमकी दी।  प्रदेश उपाध्यक्ष राकेश पांडेय ने भी घटना की निंदा करते हुए दोषियाें के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। साथ ही आंदोलन की चेतावनी भी दी है।
मेरे ही आदेश पर गेट बंद था। अब किस परिस्थिति में यह घटना हुई, इसकी जांच होगी। जांच में दोषी पाए जाने वालों पर कार्रवाई की जाएगी। – हेमंत दास, कार्यालय मंत्री, भाजपा
विज्ञापन