Wednesday, September 22, 2021

 

 

 

BJP नेताओं ने महिला CMO को नंगा कर साफ करवाई नाली

- Advertisement -
- Advertisement -

मध्यप्रदेश के सतना की जैतवारा में महिला सीएमओ (चीफ म्युनिसिपल ऑफिसर) से कपड़े उतरवाकर नाली साफ कराने का मामला सामने आया है। आरोप नगर परिषद की पार्षदों के पतियों और कुछ भाजपा नेताओं पर है।

आरोप है बीजेपी की परिषद उपाध्यक्ष साधना गौतम के पति संतोष और अन्य नेताओं ने सीएमओ रोहणी प्रसाद गुप्ता के कमरे का सामान फेंककर ताला लगा दिया। इसके बाद भीड़ के सामने कपड़े उतरवाकर गली-गली घुमाया गया। करीब 5 घंटे तक प्रताड़ित किया। यह पूरा ड्रामा 14 जनवरी को जैतवारा थाने के सब इंस्पेक्टर और एएसआई के सामने हुआ परन्तु बीजेपी नेताओं के सामने पुलिस बेबस बनी तमाशा देखती रही और उन्होंने एक्शन नहीं लिया।

कलेक्टर, एसपी से शिकायत पर भी नहीं हुई कार्रवाई

सूत्रों के अनुसार जब वह रिपोर्ट दर्ज कराने थाने पहुंचे तो प्रभारी ने सादे कागज पर एप्लिकेशन लेकर चलता कर दिया। कलेक्टर, एसपी से भी शिकायत की गई लेकिन कार्रवाई नहीं हुई।
इसके बाद गुप्ता ने भोपाल आकर नगरीय विकास विभाग के कमिश्नर विवेक अग्रवाल को मामले की जानकारी दी। कहा कि मेरा ट्रांसफर कर दें। मामले की गंभीरता से लेते हुए अग्रवाल ने रीवा आईजी से बात की। इसके बाद गुप्ता को दो गार्ड मुहैया कराए गए।

एफआईआर के बाद भी नहीं हो रही गिरफ्तारी

इसके बाद सीएमओ ने सतना के सिविल लाइन थाने में परिषद उपाध्यक्ष साधना गौतम के पति संतोष गौतम, ठेकेदार संजय शुक्ला, पार्षद अफसाना बेगम के पति अब्दुल नसीम, पार्षद सन्नो के पति बल्लू और पार्षद लीला के पति भाईलाल डोहर सहित कुछ अज्ञात लोगों के खिलाफ धारा 154 के तहत एफआईआर दर्ज कराई। उनका कहना है कि पुलिस ने मामला तो दर्ज कर लिया, लेकिन रूलिंग पार्टी के लोग होने की वजह से गिरफ्तारी नहीं हो रही है।

गुप्ता और परिषद उपाध्यक्ष के बीच है पुराना विवाद

इस पूरे मामले की जड़ में भाजपा की नगर परिषद उपाध्यक्ष साधना गौतम और गुप्ता के बीच छह महीने से चल रहा विवाद बताया जा रहा है। सीएमओ ने बताया कि 5 अगस्त, 3 सितंबर और 14 सितंबर को जान से मारने की धमकी दी गई थी। हर घटना के बाद उन्होंने अपने वरिष्ठ अधिकारी, कलेक्टर और पुलिस को सूचना दी, लेकिन सुरक्षा नहीं मिली।

सीएमओ का आरोप

सीएमओ का आरोप है कि भाजपा पार्षद के पति संतोष गौतम एवं अन्य कुछ पार्षद सीएमओ से नियम विरुद्ध काम कराने का लगातार दबाव डाल रहे थे। इंकार किया तो उन्हें धमकियां दी जा रही हैं।

घोटालेबाज हैं गुप्ता

बीजेपी उपाध्यक्ष जैतवारा नगर परिषद साधना गौतम ने उलटा आरोप लगाया कि वे झूठे हैं। सीएमओ गुप्ता घोटालेबाज हैं। 75 रुपए कीमत का पाइप 250 रुपए में खरीदा है। कम्युनिटी हॉल पर कब्जा कर घर बना लिया है। परन्तु सवाल यह है कि यदि ऐसा था तो कानूनी कार्यवाही होनी चाहिए थी ना कि उसे प्रताडित किया जाता।

मुझसे कभी नहीं मिली

सतना के एसपी मिथिलेश ने अपना दामन बचाते हुए कहा कि गुप्ता मुझसे कभी नहीं मिली। जैतवारा की घटना संज्ञान में है। कपड़े उतारकर सफाई कराने की शिकायत पर जांच चल रही है।

सोचने की बात यह है कि जांच चल रही है लेकिन आरोपियों पर कोई कार्यवाही नहीं की गई क्योंकि वे बीजेपी के क्षेत्रीय कार्यकर्ता है और केंद्र में उनकी सरकार है इसलिए यह सह सब गुंडागर्दी जायज है। (hindkhabar)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles