rus

सत्ता के नशें के आगे नेता सब कुछ भूल जाता हैं, सरकारी कर्मचारियों को गुलामों से भी बदतर समझता हैं इसका ताजा उदाहरन भिंड में देखने को मिला. जहाँ शिवराज कैबिनेट के सीनियर मंत्री स्वास्थ्य मंत्री रुस्तम सिंह ने अपने सुरक्षा गार्ड को सभी के सामने जूते उठाने के लिए मजबूर किया.

दरअसल, स्वास्थ्य मंत्री रुस्तम सिंह नेता प्रतिपक्ष सत्यदेव कटारे के निधन पर शोक व्यक्त करने के लिए कटारे के घर पहुंचे थे. इस दौरान उन्होंने सर्किट हाउस में मीडिया को सबोधित किया था. इसी प्रेस कांफ्रेंस के दौरान रुस्तम सिंह ने अपने सुरक्षा गार्ड को जूते उठाने के निर्देश दिया. अपनी नौकरी बचाने के लिए सुरक्षा गार्ड ने अपमान के घूंट पीते हुए सभी के सामने मंत्री जी के जुटे उठाये.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

यहाँ ध्यान देने योग्य बात ये हैं कि सुरक्षा गार्ड ने किसी प्रेम भाव की बजाय मंत्री जी के आदेश पर जूतें उठाकर अपमान सहा. जबकि इस दौरान कलेक्टर इलैया राजा और एसपी नवनीत भसीन भी मौजूद थे.

ऐसे में सवाल उठता हैं कि जनता की सेवा के नाम पर  चुनकर आयें इन नेताओं की गुलामी जनता और सरकारी मुलाजिमों को सहनी होगी और अपमानित होना पड़ेगा ?

Loading...