इंदौर: अभिनेता आमिर खान की ‘असहिष्णुता’ संबंधी टिप्पणी की पृष्ठभूमि में भाजपा के एक वरिष्ठ नेता ने शुक्रवार को इशारों में कहा कि अभिनेता की आगामी फिल्म के साथ उसी तरह का ‘सलूक’ होना चाहिए जैसा कि शाहरुख खान की हाल ही में आई फिल्म ‘दिलवाले’ के साथ किया गया। हिन्दुत्व समूहों के विरोध-प्रदर्शनों से ‘दिलवाले’ का कारोबार प्रभावित हुआ था।

एक का इलाज हो गया, अब दूसरे की बारी है, 'दंगल' का 'मंगल' करना है : कैलाश विजयवर्गीयभाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने आमिर को सबक सिखाने की तरफ संकेत करते हुए एक सार्वजनिक कार्यक्रम में कहा कि ‘‘एक का इलाज हो गया। अब दूसरे का इलाज करने की बारी है। ‘दंगल’ का ‘मंगल’ करना है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘जब कोई भी यह कहता है कि हमारे समाज में असहिष्णुता बढ़ रही है तो इससे मुझे हल्का गुस्सा आता है। तो उसका इलाज होना चाहिए। उसका इलाज करना बहुत जरूरी है।’’

भाजपा नेता इससे पहले असहिष्णुता संबंधी शाहरुख की टिप्पणी को लेकर उन्हें ‘देशद्रोही’ कह चुके हैं। विवाद बढ़ने पर उन्होंने अभिनेता के खिलाफ टिप्पणी वापस ले ली थी।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इससे पहले भाजपा के एक दूसरे महासचिव राम माधव ने आमिर की ‘असहिष्णुता’ संबंधी टिप्पणी की निंदा करते हुए कहा था कि वह देश की प्रतिष्ठा को लेकर केवल ऑटो रिक्शा चालकों का ही नहीं बल्कि अपनी पत्नी का भी ज्ञान बढ़ाएं। साभार: NDTV

Loading...