Sunday, November 28, 2021

गौशाला में गौ-माताओं को मार कर खालों की तस्करी करता था बीजेपी का गौभक्त नेता

- Advertisement -

छत्तीसगढ़ के दुर्ग में लाखों का अनुदान डकार कर गौशाला चलाने वाला बीजेपी नेता गायों को मार कर उनकी खालों और हड्डियों की तस्करी करता था. साथ ही गायों के मांस को मछलियों और कुत्तों को खिला दिया करता था.

इस बात का खुलासा राजपुर स्थित शगुन गोशाला में गायों की मौत के बाद भाजपा नेता और जामुल नगर पालिका उपाध्यक्ष हरीश वर्मा को गोसेवा आयोग के सचिव की रिपोर्ट के आधार पर धमधा पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. ध्यान रहे बीजेपी नेता की गौशाला में अब तक सेकड़ों गायों की मौत हो चुकी है.

गुरुवार को भी गोशाला में 12 गायों की मौत हो गई थी. गोसेवा आयोग के सचिव पाणिग्रही की शिकायत पर पुलिस ने हरीश वर्मा के खिलाफ छत्तीसगढ़ कृषक पशु परिक्षण अधिनियम, पशु के प्रति क्रूरता का निवारण अधिनियम तथा धारा 409 के तहत अपराध दर्ज किया है.

शिकायत में कहा गया कि शगुन गोशाला की गायों के पोषण व रखरखाव के लिए वर्ष 2010 से लेकर अब तक 93 लाख 63 हजार रुपए अनुदान दिया गया है. बावजूद इसके गायों की भूखा रख मौत के घात उतारा गया. खुद भाजपा नेताओं ने ग्रामीणों के हवाले से आरोप लगाया है कि हरीश मृत गायों की खाल उतारकर मछलियों के चारा के रूप में इस्तेमाल करने बेच देता था. गांव के निकट एक तालाब के किनारे मृत गायों को फेंक देता था.

वहीं छत्तीसगढ़ छात्र संगठन ने वर्मा पर गाय की हड्डियों की तस्करी का आरोप लगाया. छात्र संगठन का कहना है कि वर्मा गाय की हड्डियों को टेलकम कंपनी (पाउडर) को बेचा करता था. उसे इन हड्डियों के अच्छे पैसे मिलते थे.

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles