लखनऊ: लगातार बढ़ रहे डीज़ल, पेट्रोल और रसोई गैस के दामों को लेकर उत्तर प्रदेश काँग्रेस कमेटी के मीडिया संयोजक ललन कुमार ने भाजपा की मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि डीज़ल, पेट्रोल और रसोई गैस के बढे दामों ने आम लोगों का जीना दुश्वार कर दिया है। लगातार बढ़ रहे दामों से दैनिक उपयोग की वस्तुएं भी महंगी होती जा रही है। अब तो जैसे खुले आम ही सरकार द्वारा आम लोगों को लूटा जा रहा है। वैसे भी ‘भाजपा सरकार’ लुटेरो एवं जेबकतरों की सरकार है।

देश के विभिन्न हिस्सों में पेट्रोल का दम 100 रूपए तक दर्ज किया गया। उसी तर्ज पर डीज़ल के दाम भी नए कीर्तिमान रच रहे हैं। डीज़ल पेट्रोल के दामों का बढ़ना देश में आम चीजों की महँगाई के बढने का सबसे बड़ा कारक है। इसी के साथ ही क्रमवार रूप से बढे रसोई गैस के दाम बेहद चिंताजनक हैं।

सामूहिक रूप से देखा जाए तो 1 दिसंबर 2020 से लेकर अब तक LPG सिलेंडर 225 रुपये तक मंहगा हुआ है। इसे सिलसिलेवार रूप से समझें तो 1 दिसंबर 2020 को रसोई गैस के दाम ₹594 से बढ़कर ₹644 हुए। उसके बाद 1 जनवरी 2021 को 644 से बढ़ाकर गैस के दाम 694 कर दिए गए। यही गैस 4 फरवरी को ₹719 में बिकी। 15 फरवरी, 2021 को इसके दाम ₹719 से ₹769 और 25 फरवरी 2021 को ₹794 तक पहुँच गए।

आज 1 मार्च को पुनः गैस के दाम 25 रूपए बढ़ाकर ₹794 से ₹819 कर दिए गए। पहले ही नोटबंदी, जीएसटी जैसे गलत फैसले लेकर नरेन्द्र मोदी ने देश के करोड़ों लोगों को सड़कों पर ला दिया। करोड़ों नौकरीपेशा बेरोजगार हो गए। रोज़ाना बढ़ती महँगाई से देश के लोगों का घर चालाना मुश्किल हो गया है।