उधम सिंह नगर – नारायणपुर में स्वतंत्रता संग्राम सेनानी स्मारक के लोकार्पण कार्यक्रम से पहले हेलीपैड पर बीजेपी विधायक राजेश शुक्ला और पूर्व मुख्य सचिव राकेश शर्मा के समर्थकों में टकराव हो गया। दोनों पक्षों में लाठी डंडे और जमकर लात घूंसे चले। माहौल बिगड़ता देख पुलिस ने दोनों गुटों को खदेड़ दिया। टकराव में शर्मा के दो समर्थकों को चोटें आई हैं।

बृहस्पतिवार को लोकार्पण कार्यक्रम से पहले केंद्रीय मंत्री के स्वागत के लिए विधायक शुक्ला अपने समर्थकों के साथ कार्यक्रम स्थल से एक किमी दूर बनाए गए हेलीपैड पर खड़े थे। इस बीच वहां पूर्व मुख्य सचिव राकेश शर्मा के कुछ समर्थक भी पहुंच गए। शर्मा समर्थक पूर्व सभासद प्रहलाद खुराना और विक्रांत फुटेला सहित करीब 24 लोगों को वहां देखकर विधायक शुक्ला और उनके समर्थक भड़क गए। शुक्ला ने वहां मौजूद अधिकारियों से उन्हें हटाने को कहा, जिस पर शर्मा समर्थकों ने नारेबाजी शुरू कर दी। (नीचे विडियो देखें )

किच्छा कोतवाल प्रमोद शाह ने उन्हें समझाने का प्रयास किया लेकिन वह नहीं माने। बाद में एसडीएम पंकज उपाध्याय और सीओ हरीश मेहरा ने भी उन्हें समझाने का प्रयास किया लेकिन शर्मा समर्थक अधिकारियों से भी उलझने लगे। इससे भड़के शुक्ला समर्थकों ने उन्हें वहां से हटाने का प्रयास किया तो दोनों पक्षों के बीच टकराव हो गया। इस दौरान दोनों पक्षों में लात घूंसे और लाठी डंडे चले। माहौल बिगड़ता देख पुलिस ने सख्ती दिखाकर दोनों पक्षों को वहां से खदेड़ दिया।

मामले को लेकर विधायक शुक्ला का कहना था कि शर्मा समर्थक जानबूझकर माहौल बिगाड़ने आए थे, उनमें से कोई भी भाजपाई नहीं था। भाजपा जिला उपाध्यक्ष राजेश तिवारी ने भी बताया कि शर्मा के जो समर्थक वहां पहुंचे थे, वह वर्तमान में भाजपा के कार्यकर्ता नहीं हैं, उनका मकसद सिर्फ माहौल खराब करना था। जबकि इस बारे में पूर्व मुख्य सचिव राकेश शर्मा का कहना है कि जो भी गुट भिड़े हैं उनसे उनका कोई लेनादेना नहीं है। इसमें उन्हें जबरन घसीटा जा रहा है।

विधायक ने दी शर्मा समर्थकों के खिलाफ तहरीर
हेलीपैड पर पहुंचे शर्मा समर्थकों के खिलाफ विधायक राजेश शुक्ला ने पुलिस को तहरीर भी दी है। इसमें कहा गया है कि राकेश शर्मा के समर्थक विक्रांत फुटेला सहित करीब डेढ़ सौ लोग जबरन हेलीपैड तक पहुंच गए, उनके पास हथियार एवं काले झंडे थे। शुक्ला ने कहा कि उन्होंने शर्मा समर्थकों को हटाने के लिए सीओ से कहा तो उन्होंने हटाने का प्रयास नहीं किया। शुक्ला ने शर्मा समर्थकों पर हमले का प्रयास करने, गालियां देने और धमकी देने का आरोप भी लगाया है।

– अमर उजाला


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें