नई दिल्ली के साउथ ब्लॉक इलाके में NDMC के अंतर्गत पड़ने वाली डलहौज़ी रोड का नाम बदलने के लिए सोमवार सुबह NDMC में एक बैठक बुलाई गई.

इस बैठक में नई दिल्ली लोकसभा क्षेत्र की बीजेपी सांसद और NDMC सदस्य मिनाक्षी लेखी ने डलहौजी रोड का नाम बदलकर दारा शिकोह रोड किये जाने का प्रस्ताव रखा, उन्होंने इसकी वजह बताते हुए कहा कि मुग़ल बादशाह शाहजहां के सबसे बड़े बेटे दारा शिकोह ने हिन्दू मुस्लिम एकता और भाईचारे को बढ़ावा दिया दिया.

उन्होंने आगे कहा वो कला और संगीत के बड़े जानकार थे और उन्होंने अपनी आखिरी सांस दिल्ली में ली इसलिये डलहौज़ी रोड का नाम बदलकर दारा शिकोह रोड किया जाए.’लेकिन आम आदमी पार्टी के दिल्ली कैंट के विधायक और NDMC सदस्य कमांडो सुरेंद्र सिंह ने इसका विरोध करते हुए डलहौजी रोड का नाम महाराजा सूरजमल के नाम पर रखने की मांग की.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने कहा कि ‘दिल्ली में जाटों कि आबादी काफी अधिक है और चारों तरफ से हरियाणा, राजस्थान और वेस्टर्न यूपी है जहां जाटों कि आबादी काफी अधिक है उनकी भावनाओं को मद्देनजर रखते हुए NDMC रोड का नाम बदलना ही है तो महाराजा सूरजमल रखा जाना चाहिए.’

याद रहें कि कुछ महीने पहले पीएम निवास वाली सड़क का नाम रेस कोर्स रोड से बदलकर लोक कल्याण मार्ग रख दिया गया था और साल 2015 में औरंज़ेब रोड का नाम बदलकर डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम मार्ग किया गया था.

Loading...