पाकुड़ :  झारखंड के पाकुड़ जिले में सामाजिक कार्यकर्ता स्वामी अग्निवेश के साथ भाजपा युवा मोरचा के कार्यकर्ताओं ने मारपीट की। बीजेपी कार्यकर्ताओं ने उन्हें काले झंडे दिखाए और हाथापाई भी की। यह घटना उस समय हुई जब वह होटल से बाहर निकले थे।

स दौरान बीजेपी युवा मोर्चा कार्यकर्ता स्वामी अग्निवेश के खिलाफ नारा लगाया, जय श्री राम, अग्निवेश भारत छोड़ो, अग्निवेश पाकुड़ में नहीं रहना होगा जैसे नारे लगाते रहे। फिर उनके कपड़े फाड़े और उनके साथ मारपीट की। पुलिस ने 20 हमलावरों को हिरासत में ले लिया है।

समाजिक कार्यकर्ता स्वामी अग्निवेश को भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने बीच सड़क जमकर पीटा और भगवा रंग के कपड़े फाड़ दिए ।स्वामी अग्निवेश एक सामाजिक कार्यकर्ता हैं, हिन्दू-मुस्लिम भाईचारे के लिए भी जाने जाते हैं, बस यही बात भाजपा की नाजायज़ औलादों (भाजयुमों) को अखर गई और स्वामी जी को पीट डाला, मोदी जी अब इस पिटाई को क्या कहेंगे ? क्या ये गुंडागर्दी नही ? बीजेपी से जुड़े हर संगठन के लोग कबतक आतंक फैलाते रहेंगे ?

Indian Muslim ಅವರಿಂದ ಈ ದಿನದಂದು ಪೋಸ್ಟ್ ಮಾಡಲಾಗಿದೆ ಮಂಗಳವಾರ, ಜುಲೈ 17, 2018

इस पूरे मामले पर स्वामी अग्निवेश ने कहा, मैंने लगातार एसपी और डीएम को फोन किया लेकिन उन्होंने रिसीव नहीं किया। उस वक्त वहां कोई पुलिस वाला मौजूद नहीं था। मुझे बताया गया था कि एबीवीपी और भाजयुमो के कार्यकर्ता विरोध प्रदर्शन करेंगे। मैंने उसी वक्त कहा था कि विरोध प्रदर्शन की जरूरत नहीं है वह सीधे मुझसे आकर बातचीत कर सकते हैं। उस वक्त मुझसे बातचीत के लिए कोई नहीं आया।

एसपी शैलेंन्द्र ने इस पूरे मामले में कहा, स्वामी अग्निवेश के कार्यक्रम के संबंध में प्रशासन को कोई जानकारी नहीं थी। जैसे ही हमें घटना की जानकारी मिली हम यहां पहुंच गये हैं। स्वामी अग्निवेश के पैर में चोट आयी है उनका ईलाज चल रहा है। हम पूरे घटना पर नजर रख रहे हैं। हमारी कोशिश है कि आगे किसी प्रकार की कोई वारदात ना हो।

वहीं झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने सामाजिक कार्यकर्ता स्वामी अग्विवेश से मारपीट मामले की जांच के आदेश दिए हैं।