kishan

kishan

राजस्थान में वसुंधरा सरकार अपराधमुक्त शासन का दावा करती है लेकिन उनकी ही पार्टी के कार्यकर्ता ने केवल कानून तोड़ रहे है बल्कि सरेआम कानून के रखवालों को भी पीट रहे है.

ताजा मामला अजमेर के किशनगढ़ का है. जहाँ जैन जुलूस यात्रा में तैनात पुलिसकर्मी को एक बीजेपी कार्यकर्ता को रोकना गुनाह हो गया. गाडी रोके जाने से नाराज मौके पर ही पुलिसकर्मी को पीट डाला.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

पीड़ित पुलिसकर्मी की पहचान विक्रम के रूप में हुई. हालांकि जब अपने साथी पुलिसकर्मी को पीटे जाने के बाद बीजेपी कार्यकर्ता को गिरफ्तार कर मदनगंज थाना लेकर आया गया तो आरोपी सम्रद्ध सिंह के परिजन भी पहुंच गए. साथ ही बीजेपी कार्यकर्ताओं का जमावड़ा मच गया.

इस दौरान थाने के अंदर ही पुलिसकर्मियों के साथ मारपीट की गई, जिससे कई पुलिस कमियों को चोटें लगीं. हालांकि बाद में किगढ़ विधायक भागीरथ चौधरी ने थाने पहुंचकर मामला शांत कराया.

ध्यान रहे किशनगढ़ में विराजमान जैन मुनि सुधा सागर महाराज का रविवार को चातुर्मास समाप्ति का कार्यक्रम था.  इसी दौरान सड़क पर ही पुलिस कर्मी को पीटा गया था.