देश भर में भगवा गुंडागर्दी चरम पर है. जिसे अब बिहार भी अछूता नहीं रहा है. कथित गौरक्षा के नाम पर लोगों का पीटना एक फैशन बन गया है. इसी क्रम में मुजफ्फरपुर में बीफ ले जाने के शक में गौरक्षको ने एक ट्रक ड्राईवर की बुरी तरह से पिटाई की.

राजधानी पटना से करीब 70 किलोमीटर दूर गौरक्षको को एक रेफ्रिजेरेडेट ट्रक पर शक हुआ जिसके बाद उन्होंने ड्राईवर को रोक कर उससे पूछताछ की. ड्राईवर ने ट्रक में चावल लोड होने की बात कही. जिसके बाद असतुंष्ट गौरक्षको ने ड्राईवर को पीटना शुरू कर दिया.

घटना की जानकारी मिलते हुए मौके पर पहुंची पुलिस ने ट्रक से बड़ी मात्रा में मांस बरामद किया है लेकिन यह स्पष्ट नहीं है कि यह बीफ है या कोई और मीट. मांस को जांच के लिए भेज दिया गया है. इसी के साथ पुलिस ने बेला इंडस्ट्रियल एरिया के उस गोदाम पर भी छापा मारा जहां से यह ट्रक लोड हुआ था.

बता दें यह फैक्ट्री काफी समय से बंद पड़ी थी और हाल ही में इसे दोबारा खोला गया. छापेमारी के दौरान जांच दल को लेदर फैक्टरी के नाम पर वहां मीट पैकिंग का कारोबार चलता हुआ मिला. इस मामले में पुलिस में मामले में 48 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है.

पुलिस ने मिठनपुरा के लालू, बेला के धीरनपट्टी के मिश्री पासवान, वैशाली के बलिगांव थाना क्षेत्र स्थित पातेपुर कुड़िया गांव निवासी चंद्रेश्वर राम, पश्चिम बंगाल के चोपरा थाना क्षेत्र के टेप्पा निवासी जमशेद अली, शकीमुल व बाबुल इस्लाम को गिरफ्तार भी किया.  बुधवार को सभी आरोपितों को कोर्ट में पेश किया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?