हैदराबाद में एक पशु चिकित्सक के साथ हैवानियत के बाद पुलिस ने चारों आरोपियों को एक मुठभेड़ में मार गिराया। इस घटना के बाद अब बिहार पुलिस के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

इस वीडियो में वह कह रहे है कि जुर्म रोकना सिर्फ पुलिस का काम नहीं है। ये काम जनता को भी करना होगा। जब तक जनता नहीं जागेगी, जुर्म नहीं रुकेगा। उन्होंने कहा कि कभी जाति के नाम पर, मज़बह के नाम पर अपराधी का समर्थन करते हो।

डीजीपी ने ये भी कहा कि अपराधी को हीरो बनाते हो, उसकी पूजा करते हो, माला पहनाते हो और फिर अपराध रोकने की बात करते हो। डीजीपी ने कहा कि जब तक अपराधियों के विरुद्ध एक माहौल नहीं बनेगा, अपराध कम नहीं होगा। समाज के सब लोगों को उठाना होगा और अपराध के खिलाफ लड़ना होगा।

उन्होने आगे कहा “कौन सा आदमी गारंटी दे सकता है कि अब कोई अपराध नहीं होगा? कल सुबह अपराध नहीं होंगे? यहां 15, 16, 18 साल के बच्चे शराब का सेवन कर रहे हैं, स्मैक, हेरोइन का सेवन कर रहे हैं, नशा करना जीवन का एक तरीका है।

अपराध रोकना सिर्फ पुलिस का काम नहीं है। जबकि पुलिस अपराध को नियंत्रित करने के लिए जिम्मेदार विशिष्ट एजेंसी है, लेकिन जब तक लोग जाग नहीं जाते, तब तक एक ऐसा माहौल बनाएं जो अपराधियों के पक्ष में न हो।”

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन