gaay
gaay
गला काट कर मृत पड़ी गाय तथा थाने पर नारे बाज़ी करते लोग

गोंडा – प्रदेश में मुहर्रम और मूर्ति विसर्जन लगभग शांतिपूर्ण निपट जाने के से असामाजिक तत्वों को हज़म नही हुआ और उन्होंने भरपूर कोशिश की माहौल को ख़राब कर दिया जाए लेकिन पुलिस की सतर्कता और लोगो की चपलता के कारन एक बड़ा दंगा होते होते रह गया.

थानान्तर्गत देवापसिया के मजरा भटपुरवा गांव के पास रविवार की रात एक पशु के अवशेष मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। अफवाहों का बाजार गर्म होता देख प्रशासनिक अधिकारियों के हाथ पांव फूल गए। मौके पर पहुचे क्षेत्राधिकारी करनैलगंज केपी सिंह ने मिले अवशेष को कब्जे में लेकर जांच शुरू की तो मामले में नया मोड़ दिखाई दिया।

गांव के ही एक व्यक्ति की निशानदेही पर राम सेवक और मंगल को हिरासत में लिया गया। सीओ ने बताया कि दोनों लोगों पर गोवध निवारण अधिनियम के साथ ही कई गंभीर धाराओं में मुकदमा पंजीकृत किया गया है। इलाके में अब माहौल शांतिपूर्ण है प्रशासनिक अधिकारी मौके पर गश्त कर रहे हैं।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

नेताओं ने शुरू की राजनीति: सुबह सैकड़ों समर्थकों के साथ पहुंचे सपा जिलाध्यक्ष व विधान परिषद सदस्य महफूज खान ने थाने का घेराव कर प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की जिससे त्योहार के समय माहौल बिगाड़ने की कोशिश करने वाले लोगों की मंशा पर पानी फिर सके। वहीं बसपा के प्रत्याशी रहे मसूद आलम खां ने प्रशासन की सूझबूझ से बड़ी घटना टल जाने और सामाजिक सौहार्द न बिगड़ने देने में प्रशासन की सराहना की है।

Loading...