trip1

trip1उत्तर प्रदेश में स्थित बनारस के काशी हिन्दू विश्वविद्यालय(BHU) में कथित छेड़खानी के विरोध को लेकर प्रदर्शन कर रही छात्राओं पर 23 सितंबर की रात को लाठीचार्ज करने को लेकर विवादों में आये विश्वविद्यालय के कुलपति गिरीश चंद्र त्रिपाठी अचानक से छुट्टी पर चले गए.

मानव संसाधन विकास मंत्रालय की और से हटाए जाने की अटकलों के बीच सोमवार को त्रिपाठी अचानक से छुट्टी पर चले गए. हालांकि उन्होंने इसके पीछे निजी कारणों का हवाला दिया है.

ध्यान रहे त्रिपाठी ने पहले ही साफ कर दिया था कि अगर उन्हें छुट्टी पर जाने के लिए कहा जाता है तो वह अपने पद से इस्तीफा दे देंगे. ता दें कि त्रिपाठी का कार्यकाल महज दो महीने ही बचा है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने कहा था कि मैंने यूनिवर्सिटी के लिए बहुत काम किया है. कार्यकाल खत्म होने से दो महीने पहले मुझे जबरन छुट्टी पर भेजना, मेरे लिए बेइज्जती होगी. उन्होंने कहा, अगर मेरे साथ ऐसा हुआ मैं अपने पद से इस्तीफा देना पसंद करूंगा.

बता दें कि ध्यान रहे कैंपस में प्रदर्शन कर रही छात्राओं पर लाठीचार्ज को लेकर आलोचना झेल रहे त्रिपाठी को राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग की ओर से छात्राओं की शिकायत पर कार्रवाई करने में नाकाम रहने को लेकर पहले ही नोटिस जारी कर दिया गया है.

Loading...