bhim army

अपने नेता चंद्रशेखर आजाद की तत्काल रिहाई की मांग करते हुए शुक्रवार को मुजफ्फरनगर कलेक्टर कार्यालय में भीम सेना के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया.

इस दौरान आंदोलनकारियों ने धमकी दी कि 19 मार्च तक चंद्रशेखर आजाद को रिहाई नहीं मिलती है. तो सभी कार्यकर्त्ता इस्लाम धर्म अपना लेंगे. बता दें कि इससे पहले हरिद्वार, शामली और सहारनपुर में भी ऐसे विरोध प्रदर्शन हो चुके है.

भीम सेना के समर्थकों और दलित संगठन शहीद उधम सिंह सेना के कार्यकर्त्ता मुजफ्फरनगर कलेक्टर के पास पहुंचे और उनहोंने यूपी  सरकार और पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की.

चंद्रशेखर आजाद

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

टाइम्स ऑफ इंडिया से बात करते हुए मुजफ्फरनगर में भीम सेना के प्रभारी टेकम बौद्ध ने कहा, “यह अन्याय की हद है. चंद्रशेखर आज़ाद को पिछले साल 2 नवंबर को तीन महीने जेल की सज़ा पूरी की थी. जिसके बाद उच्च न्यायालय ने भी उन्हें रिहा करने का आदेश दिया था. लेकिन उत्तर प्रदेश सरकार ने उन्हें तीन महीने तक एनएसए के तहत जेल में डाल दिया.

बौद्ध ने कहा, कोर्ट ने फिर से 19 मार्च को मामले की सुनवाई निर्धारित की है और अगर सरकार उस तिथि तक उन्हें रिहा नहीं करेगी तो हम सभी इस्लाम अपना लेंगे.

Loading...