आगरा के कोठी मीना बाजार में चुनावी सभा को संबोधित करने पहुंचे ऑल इण्डिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि सेकुलरिज्म के नाम पर सभी दलों ने हमारा वोट लेकर हमेशा धोखा किया है. हमें आरएसएस और भाजपा से डराया गया हैं. उन्होंने कहा कि वे सेक्युलरिज्म का बोझ और ज्यादा नहीं उठा सकते हैं.

ओवैसी ने आगे कहा कि मैं मुस्लिम परस्त नहीं हूं, मैं गरीब और मजलूम परस्त हूं. इन लोगों ने गरीबों को शिक्षा, स्कूल, अस्पताल नहीं दिए. हम स्कूल खोलेंगे. मेरी लड़ाई अपनी तहजीब बचाने की है. जब तक जीवित रहूंगा संघ और मोदी से लड़ता रहूंगा. ओवैसी ने मोजूद लोगों से पूछा कि कब तक कांग्रेस, सपा, बसपा को लीडर बनाओगे. आज तुम्हारे सामने विकल्प है, स्वयं लीडर बनो. मैं मुस्लिमों की बात करता हूं, लेकिन मुस्लिम परस्त नहीं हूं. इंसाफ परस्त और हक परस्त हूं.

अखिलेश सरकार पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि अखिलेश सरकार के चुनावी घोषणा पत्र में किए गए सभी वादे अधूरे हैं. विकास केवल इटावा और सैफई में हुआउत्तर प्रदेश में अपराध बढ़ा है. अखिलेश बताएं कि जिया उल हक की मौत के पीछे कौन है? प्रदेश में अपराध बढ़ने के लिए कौन जिम्मेदार है?

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

तलाक के मुद्दें पर उन्होंने कहा कि ट्रिपल-ट्रिपल करते हो, ट्रिपल तलाक-ट्रिपल तलाक करने वालों को मैं ट्रिपल तलाक का मतलब बताता हूं. वर्षों पहले हम कांग्रेस को पहला तलाक दे चुके हैं. दूसरा तलाक मोदी को दे चुके हैं. और तीसरा तलाक अब सपा को दे रहे हैं.

Loading...