af

राजस्थान के राजसमंद में मुस्लिम बुजुर्ग मुहम्मद अफ्जरुल की निर्मम हत्या के बाद अब बंगाली मजदूरों ने राजस्थान छोड़ना शुरू कर दिया है.

वसुंधरा सरकार में जारी हैवानियत के नंगे नाच के चलते एक के बाद एक ऐसे कई मामले सामने आ चुके है. जिनमें मुस्लिमों को बेदर्दी के साथ मारा जा रहा है. ऐसे में अब डर की वजह से बाहरी मजदुर राजस्थान छोड़ रहे है.

जोधपुर में काम कर रहे समीउल शेख के पिता राजू शेख ने भी अपने बेटे को वापस घर बुला लिया है. उनका कहना है कि ग्रामीण क्रूर हत्या के बाद चिंतित हैं. सब लोग वापस आ रहे हैं. मैंने वीडियो देखा है. वह मेरे बेटे के साथ भी ऐसा कर सकतें हैं. मैं अपने बेटे को मरने नहीं दूँगा. मैंने उसे बुलाया, उसे काम छोड़ने और वापस आने के लिए कहा. उसने पहले से ही ट्रेन पकड़ ली है.”

वहीँ एक अन्य मजदूर रफीुल शेख कहते हैं, “हत्या एक सदमे के रूप में आ गई है. किसी ने नहीं सोचा कि अफराज़ुल का जीवन इस तरह खत्म होगा. हमें यहां काम करना है, लेकिन क्या होगा अगर हम भी मारे गए.”

ध्यान रहे शंभूलाल रेगर नाम के एक शख्स ने अफरजुल की तलवार से काट कर हत्या कर दी थी. उसने इस पूरी वारदात का उसने वीडियो भी वायरल किया. जिसमे वह मुस्लिमों को ललकारते हुए कह रहा है कि ”ये तुम्हारी हालत होगी… ये लव जिहाद करते हैं हमारे देश में… हमारे देश में ऐसा करोगे तो हर जिहादी की हालत ऐसी ही होगी… जिहाद खत्म कर दो…”

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano