बेगूसराय: कन्हैया कुमार को झेलना पड़ा विरोध, ग्रामीणों ने रोका काफिला

बिहार की बेगूसराय लोकसभा सीट से उम्मीदवार कन्हैया कुमार को विरोध का सामना करना पड़ रहा है। हाल ही चुनाव प्रचार कर रहे कन्हैया के काफिले को रोक दिया गया।

ग्रामीणों के अनुसार नीमा चांदपुरा पंचायत में किसी भी प्रत्याशी को सभा करने की इज़ाजत नहीं दी जाएगी। मालूम हो कि बिहार की बेगूसराय सीट से गिरिराज सिंह एनडीए के उम्मीदवार हैं, जबकि महागठबंधन ने तनवीर हसन को मौका दिया है।

इसी बीच कन्हैया ने गिरिराज सिंह पर बड़ा हमला बोलते हुए उन्ह बेशर्म तथा झूठा बताया। सीपीआई प्रत्याशी कन्हैया कुमार ने कहा कि अगर मैं अपराधी या दोषी हूं तो सरकार मुझे जेल में क्यों नहीं डाल देती? रही बात गिरिराज सिंह की तो वो अपने अनाप-शनाप बयानों के लिए सदैव जाने जाते हैं। यही वजह है कि आम लोगों को गिरिराज सिंह के मंत्रालय तक का पता नहीं है लेकिन अनाप-शनाप बयानबाजी की वजह से गिरिराज सिंह का नाम सबको पता है।

कन्हैया कुमार ने गिरिराज सिंह द्वारा सांप नाथ और नागनाथ से अपनी लड़ाई होने के संबंध में कहा कि वो दूसरे को सांप और नाग बताते हैं जबकि खुद अपने मुंह से जहर उगलते हैं। अब ये खुद ही सोचने वाली बात है कि फुफकार भी गिरिराज सिंह मारे और जहर भी गिरिराज सिंह ही उगलें लेकिन सांप किसी दूसरे को बताएं।

sanjay raut 1538364826 618x347

दूसरी और मुम्बई के जिला निर्वाचन कार्यालय ने शिवसेना के सांसद संजय राउत को आचार संहिता के कथित उल्लंघन करने के सिलसिले में नोटिस जारी किया है। दरअसल, शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’ के संपादक राउत ने रविवार को प्रकाशित एक लेख में कहा था कि कुमार को चुनाव में हराया जाना ही चाहिए, चाहे इसके लिए भाजपा को ईवीएम से छेड़छाड़ ही क्यों न करनी पड़े।

राउत से सम्पर्क करने पर उन्होंने कहा कि वह नोटिस का जवाब देकर अपना रुख स्पष्ट करेंगे। उन्होंने कहा कि मैंने जो ‘सामना’ में लिखा था उसके संबंध में मुझे नोटिस मिला है। हम चुनाव आयोग का सम्मान करते हैं और दिए वक्त में नोटिस का जवाब देकर अपना रुख स्पष्ट करूंगा।

विज्ञापन