kr

kr

केरल के पथनमथित्ता जिले के मलापल्ली गांव में एक 15 साल की बच्ची को इसलिए पीटा गया कि उसकी बहन ने पीरियड्स और मंदिर के सबंध में सोशल मीडिया में कुछ सवाल किये थे.

10वीं क्लास में पढ़ने वाली लक्ष्मी की बहन ने फेसबुक पोस्ट में मासिक धर्म के दैरान मंदिरों में लड़कियों के साथ भेदभाव को लेकर लिखा था कि मंदिरों में बाहर एक कमरा बना देना चाहिए जिसमें मासिक धर्म के दैरान देवी को रखा जा सके. इस पोस्ट के बाद लक्ष्मी को हमले का सामना करना पड़ा.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

लक्ष्मी ने बताया कि जब वह स्कूल से लौट रही थी तभी दो बाइकसवारों ने उसे रोक कर पीटा. साथ धमकी दी कि वह अपनी बहन को समझा दे कि फेसबुक पर हिंदू धर्म के बारे में लिखना बंद कर दे.

ध्यान रहे लक्ष्मी की बड़ी बहन  नवमि रामचंद्रन कम्युनिस्ट पार्टी के स्टूडेंट विंग एसएफआई की महासचिव हैं. अपनी छोटी बहन लक्ष्मी पर हुए हमले के बाद नवमि ने फेसबुक पर पोस्ट कर हमले को लेकर आरएसएस कार्यकर्ताओं को जिम्मेदार ठहराया है.

नवमि ने लिखा है कि संघ के लोग अगर सोचते हैं कि इस तरह की हरकतों से मैं डर जाऊंगी तो ऐसा नहीं है. इस मामले में मलापल्ली पुलिस स्टेशन शिकायत दर्ज कराई गई है, हालांकि फिलहाल किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है.

Loading...