तीन साल पहले बेंगलुरु के टाउन हॉल के पास कॉरपोरेशन बैंक के एटीएम में घुसकर धारदार हथियार से हमला कर महिला बैंककर्मी ज्योति उदय को घायल कर उसके साथ लुट की वारदात करने वाला मधुकर रेड्डी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया हैं.

मधुकर रेड्डी 43 साल की ज्योति उदय पर हमला करने के बाद उनका मोबाइल और एटीएम कार्ड लेकर उन्हें घयल अवस्था में छोड़कर बाहर से एटीएम का शटर गिराकर भाग गया था. तक़रीबन 2 घंटे बाद जब खून एटीएम से सड़क पर बहने लगा तो एटीएम खोल कर खून से लथपथ ज्योति को अस्पताल ले जाया गया.

19 नंवबर 2013 को इस वारदात को अंजाम देने के बाद से ही वो फरार था.  मधुकर रेड्डी को पकड़ने के लिए पुलिस ने कई टीमें बनाई थीं. बेंगलुरु पुलिस ने उस पर एक लाख रुपये के इनाम की घोषणा की थी. आंध्र प्रदेश के चित्तूर ज़िले की मदनपल्ली पुलिस ने मधुकर को गिरफ्तार किया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

दरअसल, मदनपल्ली पुलिस लिमिट के एक ट्रैफिक कॉन्‍स्‍टेबल को सूचना मिली कि एक व्‍यक्ति उस इलाके में संदिग्ध हालात में कई दिनों से घूम रहा है. उसने ये सूचना स्थानीय पुलिस स्टेशन में दी जिसकी बुनियाद और पुलिस ने मधुकर रेड्डी को पूछताछ के लिए बुलाया. लेकिन उसकी गतिविधियों से पुलिस का उसपर संदेह बढ़ा. तब पुलिस ने उसे हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की तो बेंगलुरु एटीएम हमले की बात उसने कबूली.

Loading...