hard1

hard1

गुजरात विधानसभा चुनाव के नतीजे आने से ठीक एक दिन पहले पाटीदार अनामत आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल ने 2002 के सांप्रदायिक दंगों में अल्प्संखयक मुस्लिम समुदाय के लोग की जाने लेंने वाले बाबू बजरंगी की तारीफ़ करते हुए उसे हिंदुत्व का असली नेता करार दिया.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, उन्होंने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि पार्टी ने पटेल युवकों को 2002 में सत्ता में आने के बाद से बेसहारा छोड़ दिया. इस दौरान उन्होंने नरोदा पाटिया दंगों के दोषी बाबू बजरंगी को हिंदुत्व का वास्तविक नेता करार दिया. 18 दिसंबर को आ रहे चुनाव परिणामों को लेकर हार्दिक ने कहा, उन्हें चुनाव नतीजों के बारे में चिंता नहीं है. उन्होंने कहा, चुनाव में जीत नहीं होने के बावजूद वे न्याय के लिए लड़ना जारी रखेंगे.

हार्दिक  ने कहा, “मैं आपको यह बताना चाहता हूं कि परिणामों के बारे में चिंता न करें. यह हमारी जीत होगी जागरूकता लाने के लिए आप जो काम कर रहे हैं उसे जारी रखें. आने वाले दिन हमारे हैं … मैंने पहले ही अपना काम शुरू कर दिया है मैंने (प्रधान मंत्री) नरेंद्र मोदी के खिलाफ लड़ने के लिए अपनी ऊर्जा को नवीनीकृत करने के लिए अंबानी मंदिर का दौरा किया, जिन्होंने मेरे समुदाय पर अत्याचार किए थे. परिणाम की परवाह किए बिना लड़ाई होगी, और मैं ईमानदारी से लड़ूंगा. मैं सभी समुदायों को जगाने के लिए उनसे मिलूंगा.

ध्यान रहे 2002 में दंगों की आग में झुलस रहे गुजरात में नरोदा पाटिया में तीन दिनों तक खूनी खेल चला था. इस हत्याकांड में अल्पसंख्यक समुदाय के 97 लोग मारे गए थे. इस मामले में एक विशेष जांच अदालत ने बजरंगी के अलावा 30 अन्य को दोषी ठहराया था. इनमें गुजरात की पूर्व मंत्री मायाबेन कोडनानी भी शामिल थीं.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?