iqb

बाबरी मस्जिद के मुद्दई इकबाल अंसारी को प्रशासन ने कम कर दिया है। उनकी सुरक्षा मे तैनात 2 मे से 1 सुरक्षाकर्मी को हटाया दिया गया है। उनकी सुरक्षा अब केवल एक सुरक्षाकर्मी पर है।

सुरक्षा हटने को लेकर इकबाल अंसारी ने कहा कि उन्हें मरवाने की साजिश रची जा रही है। उन्होने कहा, मेरे साथ कोई घटना घटित होती है उसकी पूरी जिम्मेदारी प्रशासन की होगी। इकबाल के अनुसार इस बावत उन्होंने एसएसपी से बात भी की और एसएसपी ने कहा, जिस तरह दो सुरक्षाकर्मियों से काम चला रहे थे, उसी तरह एक सुरक्षाकर्मी से काम चलाएं।

अंसारी ने कहा, ‘बाबरी मस्जिद-राम जन्मभूमि का मामला कोर्ट में है। मामले की सुनवाई प्रतिदिन होनी है। इसे देखते हुए मैंने माननीय योगी जी की तारीफ कर दी थी…और यहां प्रशासन ने हमारी सुरक्षा हटा दी। पहले मेरी सुरक्षा में चार सिपाही तैनात थे, फिर दो हुए और आज अचानक से उसे एक कर दिया गया।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

babri masjid

उन्होने कहा, मुझे इसको लेकर प्रशासन पर शक है। मुझे खतरा महसूस होता है, क्योंकि हमारे यहां बाहर के तमाम लोग आते-जाते रहते हैं। ऐसे में किसी का विश्वास नहीं कि कब कौन क्या कर दे? मैं मुद्दई हूं इसके बावजूद मुझे एक सिपाही के सहारे छोड़ा गया है। मैं इस मामले को लेकर एक बार फिर से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात करूंगा। जिला प्रशासन ने सरकार को बदनाम करने के लिए हमारी सुरक्षा हटाई है।’

बता दें कि इकबाल अंसारी के पिता हाशिम अंसारी के समय में उनकी सुरक्षा में चार सुरक्षाकर्मी तैनात थे। उनके इंतकाल के बाद इकबाल अंसारी की सुरक्षा में भी कुछ दिनों तक तो 4 गनर थे उसके बाद उनकी सुरक्षा को घटाकर 1 सुरक्षाकर्मी के सहारे कर दिया गया था।