bjn

bjn

बाबरी मस्जिद की शहादत की 25वीं बरसी पर बुधवार को अयोध्या में प्रशासन ने धारा-144 लगाई हुई है. बावजूद भगवा संगठनों न केवल इस उल्लंघन किया बल्कि विजय जुलूस निकालकर धारा-144 की धज्जियां उड़ा दी और हमेशा की तरह यूपी पुलिस मूकदर्शक बनी रही.

फैजाबाद की रामनगर कॉलोनी से भगवा झंडे के साथ बजरंग दल समेत तमाम हिंदू संगठनों के कार्यकर्ताओं ने विजय जुलूस निकाला. यह जुलूस रामनगर मकबरा फतेहगंज चौक साहबगंज अमानीगंज होते हुए कारसेवकपुरम पहुंचा. लेकिन पुलिस ने जुलुस पर कार्रवाई करना तो दूर रोकना भी जरुरी नहीं समझा.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

मौके पर मौजूद पुलिस प्रशासन मूकदर्शक बनी रही और जुलूस को जाने दिया.  हालांकि ये पहली बार नहीं जब यूपी पुलिस ने साम्प्रदायिक ताकतों के सामने घुटने टेके हो. संविधान और कानून को ताक पर साम्प्रदायिक ताकतों की गुलामी करना यूपी पुलिस का इतिहास रहा है.

ध्यान रहे 6 दिसंबर को देखते हुए उत्तर प्रदेश में हाई अलर्ट घोषित किया गया था. अयोध्या-फैजाबाद सहित प्रदेश के सभी जिलों में किसी भी प्रकार के जुलूस पर पूरी तरह से रोक है.

बावजूद पुलिस की मौजुदगी में भगवा संगठनों ने जुलुस निकाल कर ये संदेश दिया कि राज्य में कानून का राज नहीं बल्कि दक्षिणपंथियों का राज है,

Loading...