aur

बिहार के औरंगाबाद में सोमवार को निकाली गई रामनवमी की शोभायात्रा में आपत्तिजनक नारे लगाने के बाद भड़की हिंसा के मामले में गिरफ्तार भाजपा नेता अनिल सिंह पुलिस कस्टडी से फरार हो गया है.

अनिल सिंह उस वक्त फरार हुआ जब पुलिस उसे कोर्ट में पेश करने के लिए ले जा रही थी. बता दें कि समस्तीपुर में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए भाजपा के तीन नेताओं समेत लगभग एक दर्जन लोगों को गिरफ्तार किया था. उनमे अनिल सिंह सहित भाजपा प्रवक्ता उज्जवल कुमार और एबीवीपी नेता दीपक कुमार शामिल है.

इन सभी आरोपिया पर आईपीसी की धारा 120B, 147, 158 और 149, 295A के तहत एफआईआर (95/2018) दर्ज की गई.  पुलिस अधीक्षक डॉ. सत्‍यप्रकाश ने अनिल के थाने से भागने की पुष्टि की है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

एसपी ने बताया कि अनिल को पुलिस ने गिरफ्तार कर नगर थाने में रखा था. पुलिस को चकमा देकर वह मंगलवार की देर शाम फरार हो गया था. उन्‍होंने कहा कि हिंसा के मामले में नामजद सभी अरोपितों के खिलाफ औरंगाबाद सिविल कोर्ट से वारंट जारी करा लिया गया है. जल्‍द ही कुर्की के लिए पुलिस आवेदन करेगी.

उन्होंने कहा, नामजद आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए एसआइटी का गठन किया जायेगा. एसपी ने बताया कि अभी तक कुल 200 उपद्रवियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है.

Loading...