aurangabad 1 1526269722

औरंगाबाद: महाराष्ट्र के औरंगाबाद में पानी के अवैध कनेक्शन काटे जाने को लेकर दो समुदायों के बीच बीते सप्ताह भड़की हिंसा के मामले में गिरफ्तार किये गए दंगाइयों को छुडाने के लिए शिवसेना के पूर्व सांसद प्रदीप जायसवाल ने क्रांचि चौक पुलिस स्टेशन में जमकर बवाल किया.

दंगाइयों को छुडाने के लिए रविवार को रात के लगभग 11 बजे कई अन्य लोगों के साथ  प्रदीप जायसवाल पुलिस स्टेशन पहुंचा. इस दौरान उसने पुलिस पर दबाव बनाया. जब पुलिस ने मना कर दिया तो इन लोगों ने फर्नीचर और शीशे तोड़ दिए.

पुलिस ने प्रदीप जायसवाल के खिलाफ आईपीसी की धारा 353, धारा 352, धारा 504, धारा 506, और धारा 427 के तहत मामला दर्ज किया है. बता दें कि जायसवाल 1997-98 के बीच सांसद रहने के अलावा मेयर भी रह चूका है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

पुलिस ने इस मामले में शिवसेना के पार्षद राजेंद्र जंजाळ को गिरफ्तार किया था. उसके खिलाफ क्रांति चौक पुलिस थाने में ipc की धारा 436 के तहत आगजनी करने का मामला दर्ज है. वह जंजाल राजा बाजार इलाके से जुड़े एक दंगे के वीडियो में वहां खड़े वाहनों और दुकानों को आग लगाते दिख रहा है.

इस बारे में AIMIM विधायक इम्तियाज जलील ने सोमवार को कहा है कि वह कुछ लोगों के साथ मुख्यमंत्री से मिलेंगे और उन शिवसेना नेताओं और कार्यकर्ताओं के खिलाफ कार्रवाई की मांग करेंगे जो दंगों से संबंधित विडियो में देखे जा सकते हैं. जलील ने कहा, ‘हम इस मामले में पुलिस की भूमिका की जांच किए जाने की भी मांग करेगे कि कैसे घटनास्थल पर मौजूद पुलिस ने आंखें मूंद ली थीं.’

Loading...