बक्सर जिले के नंदन गांव में विकास समीक्षा यात्रा के लिए पहुंचे बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के काफिले पर जानलेवा हमला हुआ. हालाँकि मुख्यमंत्री की सुरक्षा में तैनात जवानों ने उन्हें सुरक्षित बचा लिया. लेकिन कई सुरक्षाकर्मी घायल हो गए.

दरअसल, समीक्षा यात्रा पर निकले मुख्यमंत्री दलित बस्ती में पहुंचे थे. लेकिन स्थानीय लोगों ने वहां से गुजर रहे सीएम के काफिले पर पत्थरबाजी शुरू कर दी. सुरक्षाकर्मियों ने आनन-फानन में सीएम के काफिले को वहां से निकाला. ग्रामीणों का आरोप है कि सात निश्चय कार्यक्रम के तहत गांव में कोई काम नहीं हुआ, इसी को लेकर ग्रामीण विरोध जता रहे थे और सीएम को गांव लाने की मांग कर रहे थे.

niti1

घटना के बाद नीतीश सीधे सभा स्थल पहुंचे. सभा स्थल पहुँचते ही नीतीश ने जैसे ही भाषण देना शुरू किया. लोगों ने यहाँ भी विरोध करना शुरू कर दिया. उन्होंने लोगों से वादा किया कि जो भी वादा किया है वो पूरा करेंगे. इतना कहना था कि लोगों ने उन्हें काले झंडे दिखाने शुरू कर दिए.

ध्यान रहे मुख्यमंत्री पिछले 12 दिसंबर से राज्यव्यापी दौरे पर हैं. उनके इस दौरे का मकसद राज्य सरकार द्वारा पिछले कुछ सालों के दौरान शुरू की गई विकास योजनाओं का जमीनी स्तर पर जायजा लेना है.

कोहराम न्यूज़ को सुचारू रूप से चलाने के लिए मदद की ज़रूरत है, डोनेशन देकर मदद करें




Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें