fai

अपने खुले विचारो के लिए पहचाने जाने वाले चर्चित आईएएस अधिकारी शाह फैसल ने आर्टिकल 35-A को लेकर कहा कि अनुच्छेद 35-ए को हटाने से जम्मू-कश्मीर का देश से रिश्ता खत्म हो जाएगा।

उन्होंने ट्वीट कर कहा कि वे अनुच्छेद 35-ए की तुलना शादी दस्तावेज व निकाहनामा से करते हैं। यदि इसे रद किया गया तो रिश्ता खत्म। इसके बाद कुछ भी चर्चा के लिए शेष नहीं बचता है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने ट्वीट किया कि भारत में जम्मू-कश्मीर का विलय संविधान के लागू होने से पहले हुआ है। जो यह कहते हैं कि विलय अब भी अस्तित्व में है वे यह भूल गए हैं कि यह रोका की तरह है। क्या रोका दो लोगों को आपस में बांधे रख सकता है जब शादी का दस्तावेज रद हो गया हो।

शाह फैजल ने कहा कि 35-ए को जारी रखने से देश की एकता व अखंडता को किसी प्रकार का खतरा नहीं है। देश की एकता-अखंडता को किसी भी कीमत पर चुनौती नहीं दी जा सकती है। उन्होंने कहा, ‘मुद्दे पर भ्रमित नहीं हों। भारत की संप्रभुता और अखंडता को चुनौती नहीं दी जा सकती है। बिल्कुल नहीं। हालांकि, संविधान में जम्मू कश्मीर राज्य के लिये कुछ विशेष प्रावधान रखे गए हैं. यह अनोखी व्यवस्था है। यह भारत की अखंडता के लिये कोई खतरा नहीं है।’

Loading...