अलवर में कथित गौरक्षा के नाम पर मेवात के रहने वाले मुस्लिम युवक पहलू खान की पीट-पीट कर हत्या करने के खिलाफ वेलफ़ेयर पार्टी ऑफ इंडिया की कोटा इकाई ने बड़े पैमाने पर आज कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन कर अपना विरोध जताया. इस अवसर पर कार्यकर्ताओं ने गृह राज्य मंत्री गुलाब चंद कटारिया के खिलाफ क़ानून व्यवस्था चौपट करने का आरोप लगाते हुए जम कर नारेबाजी की और गृह मंत्री का इस्तीफा मांगा.

प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए वेलफ़ेयर पार्टी के युवा मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष मुहम्मद खालिद ने कहा कि सब को हर किसी की आस्था का सम्मान करना चाहिये परंतु आस्था के नाम पर गुंडागर्दी बर्दाश्त नहीं की जाएगी. उन्होंने कहा कि गौ रक्षा के नाम पर जिस प्रकार से गुंडागर्दी की जा रही है वेलफ़ेयर पार्टी इसकी कड़े शब्दों में निंदा करती है. उन्होंने भीड़ द्वारा पहलू खां की हत्या पर कहा कि यदि भीड़ द्वारा क़ानून हाथ में लेने की प्रथा को तुरंत रोका ना गया तो प्रदेश में गृह युद्ध जैसे हालात पैदा हो जाएंगे. उन्होंने गृह राज्य मंत्री गुलाब चंद कटारिया द्वारा गौ रक्षा के नाम पर हो रही गुंडागर्दी को मूक समर्थन देने आरोप लगाते हुए उनके इस्तीफे की मांग की.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

प्रदर्शन की अध्यक्षता कर रहे है वेलफ़ेयर पार्टी के ज़िला अध्यक्ष आसिफ हुसैन ने पहलू खां की हत्या की घटना की कड़ी निंदा करते हुए उसके हत्यारों को फांसी देने की मांग की. उन्होंने कहा कि उन पुलिस कर्मियों पर भी मुक़दमा दर्ज होना चाहिए जो पहलू खां की हत्या के दौरान मूक दर्शक बने देखते रहे. उन्होंने भाजपा पर सांप्रदायिक राजनीति करने और गुंडागर्दी को बढ़ावा देने का आरोप लगाते हुए प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की. उन्होंने कहा कि यह मामला प्रदेश की क़ानून व्यवस्था से जुड़ा है अतः गृह राज्य मंत्री गुलाब चंद कटारिया को अपनी विफलता स्वीकारते हुए इस्तीफा देना चाहिए.

वहीं वेलफ़ेयर पार्टी के सचिव शंभू दयाल शक्‍यवाल ने क़ानून हाथ में लेने वाले गौ रक्षक दल जैसे संगठनों पर प्रतिबंध लगाने की मांग की। इस अवसर पर कार्यकर्ताओं की ओर से मुख्यमंत्री महोदया के नाम ज्ञापन भी सौंपा गया जिसकी प्रति मुख्य न्यायाधीश सर्वोच्च न्यायालय, राष्ट्रीय अध्यक्ष मानवाधिकार आयोग तथा मुख्य न्यायाधीश राजस्थान उच्च न्यायालय को प्रेषित की गई। प्रदर्शनकारियों में दिनेश सक्सेना, अमान अंसारी, शाहिद क़ुरेशी, राजेश शक्‍यवाल, मनीष सक्सेना, अनवर अली, आबिद अंसारी और युवा मोर्चा के अध्यक्ष मोहम्मद इरफान, काशीफ़ खां, सचिन कुमार, इरफान हबीब, जावेद कागज़ी, धन्नालाल, ताहिर, तारीफ़ आदि उपस्थित रहे.

Loading...