जबलपुर: तीन तलाक मामले को लेकर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सहयोगी संगठन द्वारा विशाल महिला सम्मेलन आयोजित किया गया था. जिसमे तीन तलाक और शरियत के नाम पर ग़लत जानकारी दी जा रही थी. ऐसे में कुछ मुस्लिम युवकों ने इसका विरोध किया तो उन्हें जबलपुर पुलिस की हैवानियत का शिकार होना पड़ा.

घायल युवकों का आरोप हैं कि पुलिस ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के नेताओं के दबाव में आकर उनके साथ बेरहमी से पीटाई की. इसके अलावा पुलिस के साथ राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यकर्ता भी थे. उन्होंने भी मुस्लिम युवकों को पीटा. इन युवकों की पीटाई का विडियो बड़े पैमाने पर वायरल हो रहा हैं.

विडियो में साफ़ नजर आ रहा हैं कि पुलिस का मकसद विरोध रोकने के बजाय मुस्लिम युवकों को पीटना था. और पीटना भी ऐसा था कि वे बुरी तरह से जख्मी हो जाए. आप विडियो में साफ़ देख सकते हैं कि 5-5 पुलिसकर्मी अकेले एक युवक पर बुरी तरह लाठियां भांज रहे है.

मुस्लिम युवको की पुलिस ने आरएसएस वालो के साथ मिलकर पिटाई की

आरएसएस वालो के साथ मिलकर पुलिस ने मुस्लिम युवको की पिटाई की

Posted by Headline24 on 3 ಫೆಬ್ರವರಿ 2017

जबलपुर में संघ वालो के साथ मिलकर पुलिस ने मुस्लिम लडको को पीटा

जबलपुर में आरएसएस के कार्यकर्त्ता पुलिस वालो के साथ मिलकर मुस्लिम युवको की पिटाई करते हुए

Posted by Headline24 on 3 ಫೆಬ್ರವರಿ 2017