shaheen

shaheen

पेशे से इंजीनियर डॉ अब्दुल क़ादिर ने देश को 900 से ज्यादा एमबीबीएस डॉक्टर प्रदान किये है. जो देश के अलग-अलग हिस्सों में अपनी सेवायें दे रहे है.

कर्नाटक के बीदर जिले से ताल्लुक रखने वाले अब्दुल क़ादिर ने 1989 में एक छोटे से कमरे से 17 छात्रों के साथ कोचिंग की शुरुआत की थी. आज उनकी ये कोचिंग शाहीन ग्रूप ऑफ़ इन्स्टिटूशन दुनिया भर में के बड़ा नाम बन चुकी है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

अब्दुल क़ादिर के नेतृत्व में यह इन्स्टिटूशन नौ स्कूल और 16 प्री यूनिवर्सिटी कॉलेज चला रहा है. साथ ही इसका एक डिग्री कॉलेज भी है. जिसकी ब्रांच मसूरी और बेंगलोर में है.

2012 में इस इन्स्टिटूट के जरिए 71 छात्रों को सरकारी कॉलेज में दाख़िला मिला. ये सभी कॉलेज प्रोफ़ेशनल कोर्स से जुड़े है. 2012 से शुरू हुआ ये सिलसिला 2017 में 2000 तक आ पहुंचा. इन पांच सालों में इस कोचिंग से लगभग 900 छात्रों ने एमबीबीएस क्रैक कर सफलता का कीर्तिमान स्थापित किया.

देश के भविष्य निर्माण के लिए शाहीन के संस्थापक डॉ क़ादिर को गुरुकुल अवार्ड, राज्योत्सव अवार्ड, शिक्षण रत्न प्रशस्ति, डॉ मुल्ताज ख़ान अवार्ड और कर्नाटक उर्दू अकेडमी जैसे अवार्ड से सम्मानित किया जा चुका है.