action should be against who want to destroy image of amu

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी ने एसिड पीड़ितों को अपने जे एन मेडिकल कॉलेज के जरिये मुफ्त इलाज कराएगी. इलाज के अलावा पीड़ितों के अन्य सारे खर्च भी यूनिवर्सिटी ही वहन करेगी.

छाँव फाउंडेशन के लिखित अनुरोध पर एएमयू ने ये फैसला लिया हैं. ये फाउंडेशन आगरा स्थित शेरोज़ कैफ़े संचालित करती हैं जिसे एसिड अटैक का शिकार हुई लड़कियां चलाती हैं.

यूनिवर्सिटी ने इस फैसले के बारें में बताया कि AMU मरीज़ को एसिड विक्टिम होने का सर्टिफ़िकेट भी जारी करेगी. जिसकी सहयता से विक्टिम सरकार से मुआवजा भी ले सकेगा.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

यूनिवर्सिटी के इस सराहनीय कदम के बाद एसिड विक्टिम को अब आगरा, मथुरा और आसपास के इलाकों के मरीज़ को दिल्ली और चेन्नई जाने की ज़रूरत नहीं पड़ेगी.

मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ तारिक मंसूर ने बताया कि इस सन्दर्भ में आदेश भी जारी कर दिए गए हैं. मेडिकल कॉलेज दवाई, सर्जरी और परामर्श निशुल्क उपलब्ध कराएगा. यही नहीं कॉलेज पीड़ितों के रहने और खाने का भी खर्च उठाएगा.

Loading...