amr

उत्तर प्रदेश के अमरोहा में बिजली विभाग की बड़ी लापरवाही देखने को मिली। कांकर सराय गांव में बिजली की जर्जर लाइन का तार मदरसे पर गिर गया। जिससे मदरसे के 21 छात्र झुलस गए। गनीमत इस बात की है किसी भी बच्चे को गंभीर चोट नहीं आई।

ग्रामीणों की मदद से पुलिस और प्रशासन ने बच्चों को जिला अस्पताल भर्ती कराया। घटना की जानकारी मिलते ही डीएम हेमंत कुमार और एसपी सुधीर कुमार सिंह जिला अस्पताल पहुंचे और डॉक्टरों से बात कह इलाज करवाया। डॉक्टरों ने बच्चों की हालत खतरे से बाहर बतलाई है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

हादसा रविवार दोपहर को हुआ। हादसे के बाद भी विभाग का कोई कर्मचारी या अधिकारी तक मिलने नहीं पहुंचा।अमरोहा के जिलाधिकारी ने बताया कि 23 बच्चों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। किसी भी बच्चे को कोई गंभीर चोट नहीं लगी है। उन्होंने बताया कि संबंधित विभाग को उचित कार्रवाई के निर्देश दे दिये गये हैं ताकि आगे से ऐसी घटना न घटे।

वहीं मदरसा संचालक मोहम्मद युनुस ने बताया, ‘कई बार इन तारों के बारे में शिकायत की जा चुकी है लेकिन विद्युत विभाग की ओर से कोई कार्रवाई नहीं की गई है। सैकड़ों तार मदरसे के आसपास से गुजरते हैं। हमें हमेशा डर लगा रहता है। मुझे इस घटना से दुख है। उम्मीद है कि अब उचित कार्रवाई होगी।

Loading...