शनिवार को बीजेपी के  राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पीलीभीत में रैली करने पहुंचे. लेकिन इस दौरान उन्हें निराशा का सामना करना पड़ा. क्योंकि उन्हें सुनने के लिए कोई ख़ास भीड़ जमा नहीं हुई.

केन्द्रीय मंत्री मेनका गांधी के संसदीय क्षेत्र में रैली के दौरान अमित शाह को भीड़ की बजाय खाली मैदान नजर आया. साथ ही मैदान में लगी कुर्सियां भी खाली दिखाई दी. हालांकि उन्होंने वहां पर मौजूद लोगों को संबोधित किया. उन्होंने कहा कि उप्र में आकाश से लेकर पाताल तक घोटाले किए गए हैं और सपा ने हत्या के मामले में उप्र को नंबर वन प्रदेश बना दिया है.

शाह ने कहा कि पीलीभीत से बदायूं बहुत दूर नहीं है, इसलिए आपकी आवाज वहां मौजूद प्रधानमंत्री तक पहुंचनी चाहिए. दरअसल, प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी भी बदायूं में पार्टी की रैली को संबोधित कर रहे थे.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

अमित शाह ने आगे कहा कि 15 साल से सपा और बसपा का शासन चला आ रहा है। इन लोगों ने प्रदेश को बर्बाद कर दिया है. मुख्यमंत्री कह रहे हैं कि काम बोलता है. दूसरी ओर, पीलीभीत की जनता बोलती है कि कुछ भी नहीं किया.

Loading...