amit jani

इस्लामिक काल की विश्व प्रसिद्ध एतिहासिक इमारत ताजमहल को भगवा रंग देकर साम्प्रदायिक उन्माद फैलाने वाले राष्ट्रवादी मोर्चा के अध्यक्ष अमित जानी को आगरा पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. उसके साथ उसके दो सहयोगियों को भी गिरफ्तार किया गया.

जानी ने फेसबुक पर ताजमहल की फोटो को एडिट कर उसकी मीनारों पर भगवा झंडे लगा दिए थे. साथ बड़े गुंबद पर भगवा रंग में ओम लिख दिया था. साथ ही उसने ऐलान किया था कि वह 3 नवम्बर को आगरा आकर ताज महल को तेजो महल मानते हुए शिव पूजन करेगा.

ताजमहल पर संगीत सोम के विवादित बयान के चलते अपनी इज्जत बचाने में जुटी योगी सरकार इस बार कोई रिस्क नहीं लेना चाहती थी. ऐसे में तत्काल पुलिस ने ताजगंज थाने में मुकदमा दर्ज कर उसे लखनऊ से गिरफ्तार कर लिया.

एसएसपी अमित पाठक ने कहा, ”जनता को भ्रामक मैसेज भेजकर भ्रम फैलाने की कोश‍िश की गई. प्रशासन ने उसका संज्ञान लिया गया और आरोपियों पर अरेस्ट कर लखनऊ से आगरा लाया गया. समाज में कोई भी घर्म के नाम पर भ्रम फैलाने का काम करेगा तो उसपर कार्रवाई की जाएगी.’

बता दें कि अमित जानी ने 23 अक्टूबर को ताजमहल परिसर में शिव चालीसा का पाठ करने की भी कोशिश की थी. इसी ने मायावती शासन काल मे लखनऊ अम्बेडकर पार्क में मायावती की मूर्ती को तोड़ा था.

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano