उत्तर प्रदेश के रामपुर से समाजवादी पार्टी सांसद आजम खां (Azam Khan) को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 2 मामलों में जमानत दे दी है। बेटे अब्दुल्ला आजम के फर्जी जन्म प्रमाण पत्र बनवाने और एक दुकान के किराए को लेकर दर्ज मुकदमे में ये जमानत दी गई है।

जानकारी के अनुसार, आजम खान के साथ उनकी पत्नी रामपुर से विधायक तंजीन फातिमा (Tanzeen Fatma) और बेटे अब्दुल्लाह आज़म (Abdullah Azam) को भी कोर्ट से जमानत मिल गई है। हालांकि, दोनों मामलों में जमानत के बाद भी आजम खां जेल से बाहर नहीं आ सकेंगे। अभी कई और जमानत के केस हाईकोर्ट में ही विचाराधीन हैं।

बता दें कि भाजपा नेता आकाश सक्सेना ने तीनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया था। अब आकाश सक्सेना का कहना है कि हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ वह अब सुप्रीम कोर्ट जाएंगे। हाई कोर्ट के आज के ऑर्डर के मुताबिक, आजम खान को तब तक जमानत नहीं मिलेगी जब तक शिकायतकर्ता आकाश सक्सेना के ट्रायल कोर्ट में बयान दर्ज नहीं होंगे।

इससे पहले सपा सांसद आज़म खां की पत्नी तजीन फातिमा और उनके बेटे अब्दुल्ला आजम को रामपुर के एमपी-एमएलए स्पेशल कोर्ट से बीते 7 अक्टूबर को जौहर यूनिवर्सिटी में किसानों की जमीन कब्जे के 3 मामलों में जमानत मिली थी।

सपा सांसद आजम खान, पत्नी तंजीन फातिमा और बेटे अब्दुल्ला आजम इन दिनों सीतापुर जेल में बंद हैं। जमानत मिलने के बाद भी अभी उनकी जेल से रिहाई नहीं हो पाई, क्योंकि अभी दो जन्मप्रमाण पत्र का मामला हाईकोर्ट में विचाराधीन था।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano