vaibhav raut 1533863968 1

नई दिल्ली:  आतंकी साजिश में शामिल होने के आरोप में गिरफ्तार शरद कालासकर, वैभव राउत और सुधानवा गोंधेकर नामक सनातन आतंकियों को 28 अगस्त तक के लिए एटीएस की कस्टडी में भेज दिया गया है।

एटीएस ने इन तीनों को 20 बम और 50 बमों की सामग्री के साथ रंगे हाथों गिरफ्तार किया था। इतना ही नही शुरुआती जांच करने बाद, एटीएस ने छोटे हथियार बनाने वाले एक कारखानेका पता लगाया और कम से कम पांच देशी कट्टा, तीन अर्धनिर्मित पिस्तौल, 9 एमएम पिस्तौल के 11 कारतूस, 7.65 एमएम पिस्तौल के 30 कारतूस, स्प्रिंग, ट्रिगर और अन्य सामग्री बरामद किए थे।

एटीएस ने नाला सोपारा के भंडाराली इलाके में स्थित वैभव राउत के घर और दुकान पर छापे के दौरान देसी बम सहित भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद किया गया था और कुछ किताबें भी जब्त की थी।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

मामले में अभियोजन पक्ष के वकील ने बताया, ‘हमें 7 अगस्त को जानकारी मिली कि कुछ लोग मुंबई, पुणे, नाला सोपारा और सतारा में आतंकी हमले की साजिश रच रहे हैं। छापे के दौरान कुल 22 चीजें सीज की गईं और 3 लोगों को गिरफ्तार किया गया। हमने आरोपियों के लिए ज्यादा से ज्यादा कस्टडी की मांग की है. उन्होंने बताया कि सीज की गईं 22 चीजों में 19 देसी बम थे।’

एटीएस का दावा है कि ये संदिग्ध महाराष्ट्र के अलग-अलग शहरों में आतंकी हमले को अंजाम देने की फिराक में थे। ये आतंकी हमले ईद उल अज़हा के मौके पर अंजाम दिये जाने वाले थे।

Loading...