AIMIM ने मनाई बाबरी मस्जिद की शहादत, कहा – ‘मस्जिद से मूर्ति तत्काल हटवाकर नमाज की अनुमति दी जाए’

9:36 am Published by:-Hindi News

aimim

गोरखपुर: आल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) ने 6 दिसंबर को बाबरी मस्जिद की शहादत की 24वी बरसी को शहादत दिवस के तौर पर मनाई.

AIMIM ने शहर में रैली निकालने के साथ जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन कर बाबरी मस्जिद को मुसलमानों को सौंपे जाने की मांग के साथ पुननिर्माण की बात कही. साथ ही बाबरी मस्जिद की शहादत में शामिल संगठनों पर प्रतिबंध लगाने और उनके कार्यकताओं को सज़ा देने की भी मांग की. AIMIM ने कार्यकर्ताओं ने कहा कि बाबरी मस्जिद को एक साजिश के तहत गिराया गया. इसमें शामिल जितने भी आरोपी हैं, उनकी गिरफ्तारी सुनिश्चित कर सज़ा दिलाई जाए. कार्यकर्ताओं ने सिटी मजिस्ट्रेट को सौंपे ज्ञापन में बाबरी मस्जिद को मुसलमानों को वापस सौंपे और फिर से उसका निर्माण कराने की मांग की.

आगरा में भी किया गया विरोध-प्रदर्शन:

पार्टी जिला अध्यक्ष अल्हाज मुहम्मद इदरीस अली ने बताया कि आॅल इण्डिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (aimim) की आगरा इकाई ने विरोध दर्ज कराया है. पाट्री के जिला पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं ने मांग की है कि बाबरी मस्जिद फिर से मुस्लमानों के हवाले की जाए. बाबरी मस्जिद के पुनः निर्माण की अनुमति मुस्लमानों के लिए तत्कालीन प्रधान मंत्री द्वारा किए गए वायदे के अनुसार प्रदान की जाए.

सगंठन ने बाबरी मस्जिद के विध्वंस में शामिल रहे हो आरएसएस, बजरंग दल, हिंदू युवा वाहिनी, शिव सेना, हिंदू महासभा, बीजेपी आदि सगंठनों पर तत्काल प्रतिबन्ध लगाया जाए. बाबरी मस्जिद परिसर में अवैध तरह से रखी गई रामलला की मूर्ति तत्काल हटवाकर नमाज अदा करने की अनुमति प्रदान की जाए.

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें