Saturday, June 12, 2021

 

 

 

बड़े नेता भी सपा को छोड़ थाम रहे AIMIM का दामन, शफीकुर्रहमान बर्क के बाद एक और शामिल

- Advertisement -
- Advertisement -

मुरादाबाद – मुस्लिम समुदाय में ओवैसी तथा aimim की पैठ की ख़बरें हालाँकि मीडिया ने ना की बराबर हो लेकिन मुस्लिमों की नब्ज़ समझने वाले नेताओ ने इस बदलती हवा को शायद पहचान लिया है इसी कारण पश्चिमी उत्तर प्रदेश के दो कद्दावर नेता समाजवादी पार्टी छोड़कर मीम में शामिल गये है.

जहाँ हाल ही में संभल के लोकप्रिय नेता डॉ शाफिकुरेहमान बर्क मजलिस में शामिल हुए है वहीँ एक और दूरे कद्दावर नेता फिज़ुल्लाह खान ने भी समाजवादी का दामन छोड़ पतंग की डोर पकड़ ली है.

उत्तरप्रदेश में पहली बार चुनाव लड़ने जा रही आल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) ने अभी से ही समाजवादी पार्टी को झटका देना शुरू कर दिया हैं. दो दिन पहले ही सपा के बड़े नेता शफीकुर्रहमान बर्क ने ओवैसी की पार्टी का दामन थमा हैं. अब मुरादाबाद से सपा के कद्दावर नेता फ़िज़ाउल्लाह ने भी AIMIM ज्वाइन कर ली हैं.

पूर्व सांसद शफीकुर्रहमान बर्क अपने पौत्र जियाउर्रहमान बर्क को सपा से टिकिट नहीं मिलने से नाराज थे. जियाउर्रहमान अब संभल विधानसभा क्षेत्र से AIMIM के चुनाव चिन्ह पर चुनाव लड़ेंगे.  टिकट का एलान होने के बाद जियाउर्रहमान बर्क ने कहा कि कई सालों से संभल को लूटा जा रहा है. क्षेत्रवासियों के कहने के बाद उन्होंने संभल से चुनाव लड़ने का निर्णय लिया है.

उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव में डा. शफीकुर्रहमान बर्क को संभल से प्रत्याशी बनाया गया था लेकिन कैबिनेट मंत्री ने पार्टी से गद्दारी करते हुए विरोध किया. उन्होंने कहा कि अगर कैबिनेट मंत्री लोकसभा चुनाव में सहयोग करते तो हम उनके सामने मुखालफत न करते.

इनके अलावा सपा के मज़बूत नेता परवेज़ पाशा और सपा ज़िला-अध्यक्ष केसर कुरैशी भी AIMIM में शामिल हो गये हैं. ऐसे में और सपा नेताओं की AIMIM से जुड़ने की उम्मीद हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles