amu

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय से लापता हुए छात्र नजीब अहमद की तलाश को लेकर अलीगढ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) के छात्रों ने शनिवार को रेल रोको आंदोलन किया.

इस दौरान पुलिस ने छात्रों पर बर्बरता पूर्ण तरीके से लाठियां भांजी. पुलिस की इस कारवाई में कई छात्र गंभीर रूप से घायल हुए हैं. घायल छात्रों को उपचार के लिए जे.एन.एम.सी. (अमुवि) अस्पताल ले जाया गया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

दरअसल एएमयू छात्रसंघ नजीब अहमद की तलाश को लेकर सीबीआई जांच की मांग कर रहे हैं. छात्रसंघ के अध्यक्ष फैजुल हसन ने मोदी सरकार पर इस मामले में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद नेताओं को बचाने का आरोप लगाया हेै.

छात्रसंघ ने राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को भेजे एक ग्यापन में आरोप लगाया है कि पुलिस छात्र को खोजने की बजाय उसके परिजनों को ही प्रताडि़त कर रही है और दोषियों को बचा रही है.

गौरतलब रहें कि 15 अक्टूबर को एबीवीपी के कार्यकर्ताओं ने नजीब अहमद से कथित तौर पर मारपीट की थी. जिसके अगले दिन से ही नजीब लापता हैं. नजीब के परिजन उसके अपहरण की आशंका जाहिर क्र चुके हैं.

 

Loading...