नई दिल्ली : अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (AMU) ने सर शाह सुलेमान हॉल के पुरुष छात्रावासों में रहने वाले विद्यार्थियों को कमरे से बाहर निकलने के समय शॉर्ट ड्रेस और चप्पल नहीं पहनने की सलाह दी है।

विश्वविद्यालय प्रशासन ने एक परामर्श जारी कर कहा कि ‘‘उचित पोशाक में ही छात्रावास से बाहर निकलें। कुर्ता और पायजामा तथा चप्पल पहनकर हॉल परिसरों से बाहर नहीं निकले। यही नियम भोजन कक्ष, आम (कॉमन) कक्ष और पठन (रीडिंग) कक्ष के लिए भी लागू होता है।

इस परामर्श में विद्यार्थियों को छात्रावास के कमरे से बाहर निकलने की स्थिति में शॉर्ट ड्रेस, बरमूडा, कुर्ता-पायजामा और चप्पल नहीं पहनने के निर्देश दिए गए हैं। इसके अलावा सभी महत्वपूर्ण मौकों और विश्वविद्यालय के समारोहों में काली शेरवानी या कुर्ता पायजामा पहनकर आने की भी बात कहीं गई है।

amuu

परामर्श में ये भी कहा गया है कि किसी के भी कमरे में प्रवेश करने से पहले दरवाजा खटखटायें और जवाब की प्रतीक्षा करें और घर से लाये गये खाद्य पदार्थ अपने साथ में रहने वाले छात्रों के साथ साझा करें। साथ ही डाइनिंग हॉल के अटेंडेंट को ‘‘मियां’’ या ‘‘भाई’’ कहकर पुकारा जाना चाहिए।

विश्वविद्यालय के जनसंपर्क अधिकारी का कहना है कि छात्रावास द्वारा सिर्फ एक गाइडलाइन जारी की गई है और यह ऐच्छिक है। हालांकि वॉर्डन के हस्ताक्षर के साथ जारी आदेश में इसे अनिवार्य बताया गया है। जनसंपर्क अधिकारी का कहना है कि छात्रावास वॉर्डन द्वारा बनी गाइडलाइन विश्वविद्यालय की परंपरा और संस्कृति को ध्यान में रखकर जारी की गई है।