Tuesday, September 28, 2021

 

 

 

कांग्रेस नेता के लेटरहेड पर शिकायत देख, जेल एडीजी ने बंद कमरे में पीड़ित को पीटा

- Advertisement -
- Advertisement -

भोपाल। एडीजी जेल गाजीराम मीणा पर एक जमीन की फर्जी रजिस्ट्री कराने वालों की शिकायत करने वाले फरियादी को पीटने का आरोप है। मामले की लिखित शिकायत थाना जहांगीराबाद सहित डीजीपी और गृह मंत्री से की गई है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

जानकारी के अनुसार, खानूगांव के सैफ कादर और उसके साढ़ू भाई कामरान उल्लाह पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह के पास शिकायत लेकर पहुंचे थे कि उनकी जमीन पर सुरेश मीणा, वरुण मीणा और डालचंद मीणा नामक व्यक्ति कब्जा कर रहे हैं और उसे एडीजी जेल मीणा का संरक्षण है।

अजय सिंह ने अपने लैटरहेड पर उनकी शिकायत को संलग्न कर डीजी जेल संजय चौधरी को पत्र लिखा था। उस पत्र को लेकर शिकायतकर्ता कामरान उल्लाह और सैफ कादर सोमवार को जेल पहाड़ी स्थित जेल मुख्यालय पहुंचे, लेकिन इस बीच वहीं उन्हें एडीजी जेल मीणा ने अपने कक्ष में बुला लिया।

congres

सिंह ने अपने लैटरहेड पर शिकायत लिखकर खुद को भूमि स्वामी बताने वाले लोगों को जेल डीजी तक पहुंचाने को दी। आरोप है कि जेल मुख्यालय में शिकायत सौंपने के बाद एडीजी जेल मीणा ने उन्हें अपने कक्ष में बुलाकर जमकर पीटा और धमकाया। शाम को एडीजी के खिलाफ जहांगीराबाद पुलिस थाने में शिकायत की गई और मीणा से जान को खतरा बताया।

कमरान ने बताया कि कक्ष में पहले से ही वरुण और डालचंद मीणा बैठे थे। कक्ष में उनके साथ मीणा ने मारपीट की। उन्हें धमकाया कि मेरे खिलाफ शिकायत करने की हिम्मत कैसे हो गई? कामरान और सैफ एडीजी मीणा के कक्ष से निकलकर प्रदेश कांग्रेस कमेटी कार्यालय पहुंचे, जहां महामंत्री महेंद्र सिंह चौहान को पूरा घटनाक्रम बताया।

चौहान ने मोबाइल पर एडीजी मीणा से बात की और शिकायत करने वाले कामरान के साथ मारपीट करने पर जमकर फटकार लगाई। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार है और यह कांग्रेस का कार्यकर्ता है। राहुल भैया (अजय सिंह) के शिकायत करने के बाद भी हिम्मत कैसे हो गई, फरियादी के साथ मारपीट करने की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles