Friday, October 22, 2021

 

 

 

अब्दुल करीम टुंडा पर जानलेवा हमला, जज के सामने गला दबा कर की गई मारने की कोशिश

- Advertisement -
- Advertisement -

1996 में सोनीपत ब्लास्ट मामले में दोषी साबित हुए अब्दुल करीम टुंडा पर करनाल में पेशी के दौरान अदालत में ही जानलेवा हमला हुआ.

आरोपी हमलावर की पहचान जोगिंदर के रूप में हुई है. जोगिंदर को भी करनाल जेल से सुनवाई के लिए कोर्ट में लाया गया था. ध्यान रहे इससे पहले भी पिछले साल तीस नंवबर को जोगिंदर ने अमनदीप, पानीपत निवासी, के साथ मिलकर करनाल जेल में टुंडा पर हमला किया था.

आरोपी जोगेंद्र ने टुंडा पर अतिरिक्त सेशन जज डा. चंद्रहास के सामने ही थप्पड़ और मुक्कों से हमला बोल दिया और उसका गला दबाने का प्रयास किया. इस मामले में आरोपी जोगेंद्र के खिलाफ थाना सदर में हत्या के प्रयास का केस दर्ज किया गया.

ऐसे में अब सवाल उठने लगे है कि टुंडा पर  पुलिस की मोजुदगी में एक के बाद एक जानलेवा हमले कैसे-कैसे हो रहे है ? क्या ये टुंडा की जान लेने की कोई साजिश तो नहीं है ?

गौरतलब है कि टुंडा सोनीपत ब्लास्ट में दोषी करार साबित हुआ था. कोर्ट ने 10 अक्टूबर को उसे उम्र कैद की सजा सुनाई.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles