भारत के इतिहास में पहली बार ऐसा होने जा रहा हैं कि 50000 पुलिसकर्मी एक साथ छुट्टी पर जाना चाहते हो. कर्नाटक में करीब 50,000 सिपाहियों ने 4 जून को छुट्टी के लिए आवेदन भी दे दिया है. ये छुट्टी कम तनख्वाह, काम के अधिक घंटे तथा बुनियादी सुविधाओं के लिए की जा रही हैं.

ये एक तरीके का विरोध प्रदर्शन हैं जो पुलिस महासंघ के बैनर तले किया जा रहा है. हालाँकि पुलिसकर्मियों को हड़ताल करने की इजाजत नहीं होती हैं.  वरिष्ठ अधिकारियों की बिना इजाजत के पुलिसकर्मियों के विरोध प्रदर्शन करने पर उन्हें तुरंत ही पुलिस फोर्स से निकाला भी जा सकता है.

राज्य सरकार से कई बार आग्रह करने और अदालत से समर्थन न मिलने पर पुलिसकर्मियों ने अखिल कर्नाटक पुलिस महा संघ के अध्यक्ष वी शेशाद्री के समर्थन से 4 जून को छुट्टी लेने का फैसला किया है.

कोहराम न्यूज़ को सुचारू रूप से चलाने के लिए मदद की ज़रूरत है, डोनेशन देकर मदद करें




Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें