मध्य प्रदेश के सतना में कथित टेरर फंडिंग मामले में पांच लोगों को हिरासत में लिया गया है. आरोपियों के पास से 13 पाकिस्तानी नंबर मिले हैं. मामले की जांच की जा रही है.

पुलिस के मुताबिक, टीम ने अलग-अलग जगह दबिश देकर यह गिरफ्तारी की. आतंक निरोधक दस्ते (एटीएस) की टीम भी सतना पहुंच गई है. आरोपियों में बलराम सिंह, भागवेंद्र सिंह, सुनील सिंह, शुभम तिवारी और एक अन्य हैं.

इसके पहले भी बलराम को भोपाल एटीएस ने 8 फरवरी 2017 को गिरफ्तार किया था. वहीं, भागवेंद्र को इंदौर एसटीएस ने गिरफ्तार किया था. सुनील 2014 से देश विरोधी गतिविधियों में सक्रिय था, लेकिन एटीएस उसे पकड़ नहीं पाई.

आरोपियों के पास से मोबाइल फोन और लैपटॉप बरामद किए गए हैं. इसमें कुछ पाकिस्तानी नंबर भी मिले हैं जिसकी जांच की जा रही है. रिपोर्ट के मुताबिक इन नंबरों के जरिये आरोपी फंडिंग मैनेजरों से वीडियो कॉल, मैसेंजर कॉल और व्हाट्सएप पर चैट किया करते थे.

बताया जा रहा है कि आरोपी पाकिस्तान में बैठे अपने आकाओं से बात किया करते थे. इसके बाद अपने खाते में पैसा जमा करवाकर उन्हें आतंकियों तक सप्लाई करते थे. आरोपी बिहार, झारखंड और छत्तीसगढ़ से जुड़े संदिग्ध लोगों को बैंक खातों और हवाला के जरिए कमीशन के आधार पर पैसे ट्रांसफर करते थे.

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन