पश्चिम बंगाल सरकार के नाम का ईद-उल-फितर पर चार दिन की छुट्टियों का एक फर्जी नोटिफिकेशन सोशल मीडिया पर इन दिनों तेजी से वायरल हो रहा है। जिसके बाद पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

शनिवार शाम वायरल हुए इस नोटिफिकेशन मे कहा गया कि पूरे राज्य में 12 जून से शुरू होकर चार दिन के लिए ईद की छुट्टी रहेगी।  इन छुट्टियों की घोषणा राज्यपाल का हवाला देकर की गई।

नोटिस में लिखा, ‘ईद त्योहार मनाने के लिए, जो 12 जून से 15 जून, 2018 के बीच होगा, राज्यपाल 16 जून, 2018 के अलावा 12 से 15 जून, 2018 को भी हर्षपूर्वक छुट्टियों की घोषणा करते हैं। 16 जून को पहले से ही सार्वजनिक अवकाश के रूप में अधिसूचित किया गया है।’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

नोटिस में आगे बताया गया है कि शैक्षिक संस्थानों, ग्रामीण और शहरी स्थानीय निकायों, विकास प्राधिकरणों, बोर्डों, निगमों, राज्य सरकार के उपक्रमों सहित सभी सरकारी कार्यालयों में भी अवकाश रहेगा।

हालांकि पुलिस ने अपनी जांच मे इस नोटिफिकेशन को पूरी तरह फर्जी पाया। कोलकाता पुलिस ने ट्विटर पर चेतावनी की कि सोशल मीडिया पर वायरल होने वाला यह संदेश नकली है और जो लोग इसे शेयर कर रहे हैं उन्हें दंडित किया जाएगा। पुलिस ने कहा कि लोगों के बीच भ्रम पैदा करने के मकसद से सोशल मीडिया पर यह फर्जी नोटिफिकेशन शेयर किया गया था।

राज्य शहरी विकास मंत्री फिरहाद हाकिम ने कहा, ‘एक राजनीति प्रेरित अभियान चल रहा है कि हमारी मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अल्पसंख्यक वर्ग को अतिरिक्त सुविधाएं दे रही हैं। यह फर्जी संदेश उसी का हिस्सा है। हमने इस मामले में साइबर क्राइम विभाग को सूचित किया है।’

Loading...