रेलवे की लापरवाही से मुंबई में एक रेलवे स्टेशन पर बड़ा हादसा पेश आया है. जिसमे 22 लोगों की मौत हो गई है. ये हादसा एल्फिंस्टन रोड और परेल उपनगरीय रेलवे स्टेशनों को जोड़ने वाले फुटओवर ब्रिज पर घटित हुआ है. घटना में 35 से अधिक लोग घायल बताए जा रहे हैं.

अधिकारियों के अनुसार मरने वालों में 18 पुरुष और चार महिलाएं शामिल हैं. दरअसल, एल्फ़िंस्टन और परेल के लोकल रेलवे स्टेशनों को जोड़ने वाले पुल पर भगदड़ मच गई थी. पुलिस के अनुसार यह हादसा सुबह करीब दस बजकर चालीस मिनट पर हुआ.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

रेलवे प्रवक्ता अनिल सक्सेना ने संवाददाताओं को बताया कि ब्रिज पर भीड़ इसलिए भी ज़्यादा हो गई थी क्योंकि भारी बारिश से बचने के लिए यात्री ऊपर चढ़ गए थे. सक्सेना ने कहा कि इस घटना की जांच कराई जाएगी.

इस हादसे के बीच एक बड़ा खुलासा हुआ है. दरअसल, दो दिन पहले ही मुंबई में रहने वाले एक शख्स ने इसी फुट ओवर ब्रिज पर हजारों यात्रियों की भीड़ की तस्वीर शेयर करते हुए फेसबुक पर भगदड़ की आशंका जताते हुए रेलेव प्रशासन को अवगत कराया था, लेकिन प्रशासन ने इस शख्स के पोस्ट को नजरअंदाज कर दिया.

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर, घटना पर दुख व्यक्त किया है और कहा है कि ‘रेल मंत्री पीयूष गोयल घटना पर जानकारी ले रहे हैं और मदद सुनिश्चत कर रहे हैं.’

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फणनवीस ने घटना की जांच करवाने की बात के साथ मृतकों के परिजनों को 5 लाख रुपये मुआवजा और घायलों का उपचार करवाने का आश्वासन दिया है.

Loading...